टोल के खिलाफ उग्र भीड को नियंत्रित करने के लिये पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोडे 


सीकर : जिले के सामोद थाना क्षेत्र में चौमू—चंदवाजी मार्ग पर लगे टोल को हटाने के लिये धरना प्रदर्शन कर रहे उग्र किसान प्रदर्शनकारियों को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने आज हल्का बल प्रयोग किया और आंसू गैस के गोले छोडे। किसान सभा के नेता और पूर्व विधायक अमराराम सहित कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया ।

गोविंदगढ सर्किल अधिकारी दीपक कुमार शर्मा ने बताया कि उग्र प्रदर्शनकारियों ने पुलिस कर्मियों पर पत्थरबाजी ​की जिससे कुछ पुलिसकर्मियों को चोट पहुंची। पुलिस ने बताया कि चौमूं चंदवाजी मार्ग पर टोल बूथ हटाने की मांग को लेकर किसान पिछले 22 दिन से धरने पर बैठे थे। आज प्रदर्शनकारियों ने टोल को उखाड़ फेंकने की चेतावनी दी थी। किसान नेता अमराराम के नेतृत्व में प्रदर्शनकारियों ने जैसे ही टोल की तरफ कूच किया, मौके पर मौजूद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोकने का प्रयास किया।

उन्होंने बताया कि इसी दौरान प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया और इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी कर डाली। उन्होंने बताया कि उग्र प्रदर्शनकारियों को नियंत्रण में करने के लिये आंसू गैस के गोले छोडे गये। प्रदर्शनकारियों की पत्थरबाजी पुलिस उपाधीक्षक, एक महिला उपनिरीक्षक समेंत करीब छह पुलिसकर्मी और छह प्रदर्शनकारियों को चोट लगी। पुलिस ने इस मामले में किसान सभा के नेता और पूर्व विधायक अमराराम सहित कई प्रदर्शनकारी किसानों को हिरासत में लिया है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें।