केंद्रीय सिक्ख अजायबघर में बाबा ठाकुर सिंह जी की तस्वीर सुशोभित


लुधियाना- अमृतसर : केंद्रीय सिक्ख अजायब घर श्री अंमृतसर में दमदमी टकसाल के वें प्रमुख संत बाबा ठाकुर सिंह जी की तस्वीर सुशोभित की गई। इस समय तस्वीर से पर्दा हटाने की रस्म जत्थेदार श्री अकाल तख़्त साहब सिंह साहब ज्ञानी गुरबचन सिंघ, सिंह साहब ग्यानी जगतार सिंह हैड ग्रंथी श्री दरबार साहब, शिरोमणी समिति दे प्रधान प्रो: कृपाल सिंह बडूंगर, दमदमी टकसाल के मुखी बाबा हरनाम सिंह ख़ालसा, दिल्ली समिति के प्रधान स. मनजीत सिंह जी.के. ने निभाई। इस से पहले हज़ूरी रागी भाई लखविन्दर सिंह के जत्थे की तरफ सेर्तन श्रवण करवाया गया और भाई राजदीप सिंह अरदासीए ने अरदास की।

इस मौके प्रो. किरपाल सिंह बडूंगर ने कहा कि केंद्रीय सिक्ख अजायब घर में उन संतों महापुरुषों की तस्वीरों लगाईआं जातीं हैं जिन कौम की भलाई के लिए बड़े कार्य किये होते हैं और आने वाली पीड़ाीया इन सुशोभित तस्वीरों को देख कर सीध प्राप्त करती हैं। उन कहा कि दमदमी टकसाल के वें प्रमुख बाबा ठाकुर सिंह जिन की आज पंथक शख़्सियतों की हाजिऱी में तस्वीर सुशोभित की गई है उन्हों ने सिक्ख धर्म के प्रचार और प्रसार के लिए सिक्ख संगतें को समय समय गुरू वाले बनने के लिए प्रेरित किया।

इस समय दमदमी टकसाल के प्रमुख संत बाबा हरनाम सिंह ख़ालसा ने केंद्रीय सिक्ख अजायब घर में बाबा ठाकुर सिंह जी की तस्वीर लगाने के लिए शिरोमणी समिति का धन्यवाद किया। उन कहा कि बाबा ठाकुर सिंह जी महान परोपकारी और पंथक आत्मा थे। उन हज़ारों प्राणीयों को अमृत छका कर गुरू के साथ जोड़ा और धर्म प्रचार लहर को ओर प्रचंड करते घर -घर तक पहुँच की।

इस मौके सिंह साहब ज्ञानी जगतार सिंह हैड ग्रंथी, पूर्व जत्थेदार जसबीर सिंह गंजे, शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के जनरल सचिव भाई अमरजीत सिंह चावला, संत जर्नैल सिंह ख़ालसा भिंडरावालों के सुपुत्र भाई ईशर सिंह, शहीद भाई अमरीक सिंह की सुपुत्री बीबी सतवंत कौर, स. मनजीत सिंह जी.के. प्रधान और स. मनजिन्दर सिंह सिरसा जनरल सचिव दिल्ली समिति, शिरोमणी समिति के अंत्रिंग मैंबर स. सुरजीत सिंह भिट्टेवड, भाई राम सिंह, भाई गुरचरन सिंह ग्रेवाल, भाई रजिन्दर सिंह मेहता, भाई अजायब सिंह अभ्यासी, भाई मनजीत सिंह, बाबा दर्शन सिंह तौलिया साहब, श्री अकाल तख़्त साहब के हैड ग्रंथी भाई मलकीत सिंह, भाई गुरनाम सिंह बंडाला, बाबा सविन्दर सिंह टाहली साहब, बाबा कंवलजीत सिंह, स. भगवंत सिंह स्यालका, स. गुरप्रीत सिंह झब्बर, स. गुरबचन सिंह करमूंवाला, स. हरजाप सिंह सुलतानविंड, स. अमरजीत सिंह बंडाला, बाबा चरनजीत सिंह जस्सोवाल, भाई जगतार सिंह गंजे, शिरोमणी समिति के सचिव स. अवतार सिंह सैंपला, एडीशनल सचिव स. सुखदेव सिंह भूरा कोहना और स. बिजै सिंह, स. सुलक्खण सिंह और स. गुरिन्दर सिंह मैनेजर, स. भगवंत सिंह धंगेड़ा निजी सहायक, फेडरेशन नेता भाई परमजीत सिंह ख़ालसा, और बड़ी संख्या में संगतें उपस्थित थे।

– सुनीलराय कामरेड