भारी बारिश के बावजूद उमड़ा हिंदु-मुस्लिम सिखेां का सैलाब


लुधियाना : 52 वर्षीय मृतक पादरी सुल्तान मसीह को आज शाम भारी बारिश के बीच हजारों सजल नेत्रों ने अंतिम विदाई दी। उन्हें लुधियाना के मध्य स्मिइटरी रोड़ प्रिस होस्टल के नजदीक कब्रिस्तान में दफना दिया गया। इस अवसर पर पुलिस के पुख्ता सुरक्षा प्रबंध देखने को मिले। शव यात्रा की सुरक्षा जिम्मेदारी स्वयं पुलिस कमीश्रर आरएन ढोके व आला अधिकारी कर रहे थे। इस दौरान कई इलाके थानों की पुलिस के अतिरिक्त सैकड़ों वर्दीधारी जवान तैनात रहें।

हालांकि इस अंतिम यात्रा में जहां क्रिश्चियन बिरादरी से जुड़ी महिलाओं का रूदन माहौल को गमगीन करने के लिए काफी था किंतु नौजवानों के चेहरों पर गुस्सा इस हत्या को लेकर भी स्पष्ट नजर आ रहा था। शव यात्रा में सियासी, सामाजिक और धार्मिक संस्थाओं के सदस्यों ने आगे बढ़कर पादरी को श्रद्धांजलि दी। सलीम टाबरी से कब्रिस्तान के लिए जब शव को उठाया गया तो भारी बारिश भी लोगों के कारवां को रोक ना पाई। कब्रिस्तान में ईसाई समुदाय के हजारों लोग पंजाब के अलग-अलग हिस्सों से पहुंचे हुए थे। सभी लोगों ने अपने-अपने स्तर पर अश्रुभरे नेत्रों से पादरी को विदाई दी।

उल्लेखनीय है कि शनिवार की रात चर्च के बाहर कुछ अज्ञात मोटर साइकिल सवार लोगों ने पादरी सुल्तान मसीह की गोलिया मारकर सरेआम हत्या कर दी थी। रविवार को ईसाई समुदाय के लोगों ने लुधियाना, जालंधर राष्ट्रीय राजमार्ग कई घंटों के लिए जाम कर दिया था। लोगों की मांग थी कि हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफतार करके पादरी के परिवार के साथ इंसाफ किया जाएं।

सलीम टाबरी के पीरू बंदा मोहल्ले में स्थित टंैपल आफ गॉड चर्च के पादरी को दफनाने से पहले पुलिस महकमे में उनके बेटे को सरकारी नौकरी देने के साथ-साथ आर्थिक सहायता राशि 5 लाख रूपए देने की प्रशासन ने घोषणा की तो मृतक के पारिवारिक रिश्तेदारों ने सुपुर्दे-खाक करने का फैसला कर लिया। उधर लुधियाना के पुलिस कमीश्रर आरएन ढोके द्वारा बनाई गई चार अधिकारियों की स्पैशल इंवेस्टीगेशन टीम ने अपने स्तर पर जांच शुरू कर दी है। पुलिस आशंका जता रही है कि पादरी की हत्या से पहले हत्यारों ने समस्त इलाके का निरीक्षण किया। इसी बीच पुलिस ने इलाके के समस्त सीसीटीवी कैमरे खंगालने शुरू किए है। पुलिस पादरी के मोबाइल की कॉल डिटेल भी निकाल रही है ताकि पता चल सकें कि वारदात वाले दिन पादरी की किन-किन लोगों से बात हुई है। उधर पंजाब क्रिश्चियन फैडरेशन के प्रधान अरूण हैनरी ने मसीह भाईचारे को शांति बनाए रखने की अपील की है।

– सुनीलराय कामरेड