पंजाब के पूर्व मंत्री जनमेजा सिंह सेखों ने गुरू द्वारा जामनी साहिब वजीदपुर में 3 घंटे सेवा करके भूल बख्शाई


लुधियाना-वजीदपुर : शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री जनमेजा सिंह सेखों ने पंजाब विधानसभा चुनावों के दौरान की गई धार्मिक पंथक गलतियों के कारण भूल बख्शाने के लिए श्री अकाल तख्त साहिब से मिली धार्मिक सजा के तहज गुरूद्वारा जामनी साहिब वजीदपुर में करीब 3 घंटे तक स्वयं हाथों से सेवा निभाई। इस सेवा के तहत उन्होंने वहां हाजिर संगत के जोड़े साफ किए और लंगर हाल में जाकर बर्तनों क ो भी धोया। श्री अकाल तख्त साहिब के हुकम को मानते हुए स. सेखों ने झाडू थामकर फर्श को भी साफ किया और इस दौरान उन्होंने 501 रूपए की देग के साथ-साथ 5100 रूपए गुरू घर की गोलक में भी डालें।

उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनावों के दौरान स. सेखों ने अन्य नेताओं के साथ श्री अकाल तख्त साहिब से जारी धार्मिक हुकमनामे की उल्लंघना करते हुए सिरसा स्थित सच्चा सौदा के अनुयायियों से वोट मंागने गए थे। गर्मी से बेपरवाह होकर होते हुए स. सेखों ने कहा कि यह सेवा किस्मत वालों को ही मिलती है। उन्होंने माना कि अगर उन्होंने गलती की है तो सजा भुगतकर वह फिर से गुरू के सेवक है। श्री अकाल तख्त साहिब की तरफ से जो-जो भी हुकम उन्हें दिए गए है, वह तहदिल मानेंगे।

– सुनीलराय कामरेड