पंजाब में कानून व्यवस्था और नशे पर काबू पाने में सरकार नाकामयाब : सुखबीर


लुधियाना-गुरदासपुर : अकाली दल पार्टी की तरफ से सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस के खिलाफ जबर विरोधी लहर के नाम पर पुरे पंजाब में अकाली दल पार्टी के वर्करों के साथ विशेस मीटिंग का सिलसिला चल रहा है। इस के तहत आज चौथे दिन विधान सभा हल्का गुरदासपुर में अकाली दल पार्टी के प्रधान और पंजाब के पूर्व उप मुख्या मंत्री सुखबीर सिंह बादल की तरफ से अलग अलग मीटिंग को सम्बोधन किया। वहीं सुखबीर सिंह बादल का कहना था की आज पंजाब में जो हालात बने हुए है उसके बारे में खुद कांग्रेस सरकार के विधयक ही बयान कर रहे है की न तो कानून वयवस्था बहाल है और वहीं सरकार नशे पर काबू पाने में भी नाकामयाब सिद्ध हो रही है।

अकाली दल पार्टी की तरफ से जबर विरोधी लहर के तहत चौथे दिन हल्का गुरदासपुर में अलग अलग जगहों पर अकाली वर्करों की मीटिंग की गई जिस में पहुंच पूर्व उप मुख्या मंत्री सुखबीर सिंह बादल की तरफ से मीटिंग को सम्बोधन करते हुए यहाँ कांग्रेस को आड़े हाथों लिया।

वहीँ सुखबीर सिंह बादल ने पतरकारो के साथ बातचीत करते हुए पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा की खुद कांग्रेसी विधयक सुरजीत धीमान ने बयान दिया है की पंजाब में नशे पर काबू नहीं पाया जा रहा है और सुखबीर बादल का कहना था की पहले तो आरोप था की अकाली नशा बेच रहे है लेकिन अब कौन बेच रहा है।

साथ ही केबनिट मंत्री धर्मसोत के बयान के राज्य में कानून व्यवस्था बहाल रखना राज्य के लोगो के अपने हाथों में होता है पर कहा के राज्य में कानून व्यवस्था बहाल रखने की जिम्मेदारी सरकार की होती है लेकिन कांग्रेस सरकार के मंत्री ही इस कहते दिखाई दे रहे है तो साफ जाहिर है के कांग्रेस पंजाब में कानून व्यवस्था बहाल रखने में फेल हो चुकी है और साथ ही उनका कहना था की लोग कांग्रेस के राज से केवल चार महीनों में ही तंग आ चुके है।

– सुनीलराय कामरेड