घुग्गी का इस्तीफा, पंजाब ‘आप’ में घमासान


चंडीगढ़ : दिल्ली के साथ-साथ पंजाब में भी आम आदमी पार्टी में घमासान थमता नजर नहीं आ रहा। हाल ही गुरप्रीत घुग्गी को पंजाब के कन्वीनर के पद से हटाए जाने और भगवंत मान को आम आदमी पार्टी पंजाब का अध्यक्ष बनाए जाने से नाराज पंजाब के पूर्व कन्वीनर और जाने माने कामेडियन गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने बुधवार को आम आदमी पार्टी को अलविदा कहते हुए अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी। गुरप्रीत घुग्गी ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में पत्रकार सम्मेलन के दौरान आम आदमी पार्टी से अपने इस्तीफे की घोषणा की।

घुग्गी ने कहा कि वह फि लहाल किसी अन्य पार्टी में शामिल नहीं होंगे। इस मौके पर उन्होंने आम आदमी पार्टी के केंद्रीय नेताओं पर जमकर हमले किए। यहां प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में गुरप्रीत सिंह घुग्गी ने कहा कि उनको जिस तरह पंजाब आप के कन्वीनर पद से हटाया गया वह सही नहीं हैं। उन्हें गलत तरीके से इस पद से हटाया गया। उन्होंने कहा कि भगवंत मान को आप का पंजाब प्रधान बनाना गलत है। वह विधानसभा चुनाव में चुनाव अभियान समिति के प्रधान थे तो फिर वह हार की जिम्मेदारी से कैसे बच सकते हैं। उन्होंने आम आदमी पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व पर कड़े हमले करते हुए उसके द्वारा उठाए गए कदमों पर सवाल खड़े किए। केंद्रीय नेतृत्व को चाहिए कि पंजाब के ‘आपÓ 20 विधायकों व कुछ अन्य लोगों से सलाह करने के बाद ही पंजाब का अध्यक्ष बनाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि भगवंत मान की जगह डॉ. धर्मवीर गांधी, सुखपाल खैहरा या एचएस फु लका में से किसी को पंजाब आप का प्रधान बनाया जाना चाहिए। जिन उद्देश्यों और आप की जिन नीतियों की वजह से इस पार्टी में शामिल हुआ था, अब वे नहीं रह गई हैं।

(अनूप कुमार)