झींडा ने बनाई जनता अकाली दल पार्टी


लुधियाना- अमृतसर  :  हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष जगदीश सिंह झींडा ने अपने सैंकड़ों समर्थकों के साथ श्री अकाल तख्त साहिब पर अरदास करके नई राजनीतिक पार्टी जनता अकाली दल का गठन कर दिया है। झींडा ने इस नाई पार्टी के देश और विदेश के यूनिटों के पदाधिकारियों का भी एलान किया। कहा कि उनकी पार्टी आने वाले समय में प्रत्येक राजनीतिक गतिविधियों में पूरी सरगर्मी से हिस्सा लेगी।

नई पार्टी का गठन करने के बाद झींडा ने बताया कि नई पार्टी का गठन श्री अकाल तख्त साहिब से इस लिए किया गया है क्यों कि आज श्री हरिगोबिंद साहिब जी का प्रकाश पर्व है। गुरु हरिगोबिंद साहिब जी ने ही इसी लिए श्री अकाल तख्त साहिब जी स्थापना की थी कि ताकि धर्म के प्रचार व प्रसार के लिए राजनीति में आना जरूरी है। गुरु साहिब की ओर से बताए रास्ते पर चलते हुए राजनीतिक पार्टी धर्म से दिशा लेकर चलेगी।

झींडा ने कहा कि हम चंडीगढ या दिल्ली से भी पार्टी का एलान कर सकते थे। परंतु गुरु साहिब से अर्शीवाद लेकर ही हम राजनीति में आकर उनके बताए असूलों को ही लागू करना चाहते है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल हमेशा ही आरोप लगाते रहते है कि हरिमयाणा के सिख श्री अकाल तख्त साहिब से टूटना चाहते है। इसी लिए हमने ने श्री अकाल तख्त साहिब से अरदास कर पार्टी का गठन किया है और प्रकाश सिंह बादल के दावों का झूठा साबित कर दिया हैँ। पार्टी का गठन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किया गया है। इस में दस देशों  और भारत के 11 राज्यों से प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है।

पार्टी का मुख्यालय दिल्ली में होगा और सब आफिस चंडीगढ़ में स्थापित किया गया है। उनकी पार्टी हमारा गांव हमारा राज, हमारा शहर हमारी सरकार नारे व उद्देश्य पर 21 सूत्रों को आधार बना कर काम करेगी। उनकी पार्टी में सभी धर्मों के लोगों  हिन्दू , मुसलिम , सिख , ईसाईयों को स्थान दिया जाएगा। पार्टी हर वर्ष दस जून को करनाल में पार्टी राजनीतिक कांफ्रेस का आयोजन किया करेगी।

आज तक देश में जितने भी किसान आंदोलन हुए है उनमें मरने वाले किसानों को जनता अकाली दल शहीद का दर्जा देता है। मैं यह भी एलान करता हू  कि मैं एक ही पद पर काम करूंगा। एक अगस्त को हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की बैठक बुला कर एक ही पद  पर काम करने का फैसला लूंगा। संगत जिस पद पर काम करने की जिम्मेवारी सौंपेगीउसी पद पर काम करूंगा।

– सुनीलराय कामरेड