इलाके में दहशत का माहौल, पुलिस जांच में जुटी


लुधियाना-पठानकोट,  : पंजाब में शरारती तत्वों द्वारा पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के इशारे पर लगातार शांति को भंग करने की साजिशें रचाई जा रही है। इसी क्रम में आज ऐसे ही दहशत का माहौल पठानकोट के इलाके में लगते गांव जंडियाला में दिखा, जहां गांवों के अलग-अलग स्थानों पर लोगों ने खालिस्तान समर्थक पोस्टर देखें। हालांकि गांव के ही एक स्कूल की इमारत पर भी ऐसे ही पोस्टर देखे गए है। इन पोस्टरों के लगने की भनक पड़ते ही जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने गांववासियों की सहायता से उन पोस्टरों को तत्काल दीवारों से उतार फेंका।

जानकारी अनुसार पंजाब में लगने वाले इन पोस्टरों पर पंजाबी भाषा में आजादी ही हल और खालिस्तान जिंदाबाद के नारों के साथ सिख रिफरेंडम 2020, ब्लैक और हरे रंग के स्कैच पैन से लिखा हुआ था। दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि उन्हें ऐसी सूचनाएं प्राप्त हुई थी। फिलहाल वह मामले की जांच में जुटी है, जिसके बाद उच्च अधिकारियों के निर्देषों अनुसार कार्यवाही की जाएंगी। स्मरण रहें कि पिछले दिनों आतंकवाद के आका जरनैल सिंह भिंडरावाले और सिखों की सर्वोच्च संस्था श्री अकाल तख्त साहिब के पोस्टरों के साथ भी बड़े-बड़े 40 के करीब होर्डिंग पंजाब के अलग-अलग इलाकों में लगे थे, जिसपर कार्यवाही करते हुए पुलिस प्रशासन ने उन्हें तत्काल उतार दिया था, ताकि पंजाब का माहौल ना बिगड़े।

हालांकि इस मामले में पुलिस ने कार्यवाही करते हुए कुछ सिख युवकों को जेल की सलाखों के दर्शन करवाएं थे, जिनपर अभी अदालती कार्यवाही चल रही है। फिलहाल जंडियाला में 15 अगस्त से पहले ऐसे अलगवाद के पोस्टर दिखाई दिए जाने पर दहशत का माहौल व्याप्त है।

 – सुनीलराय कामरेड