बच्चा अपहरण मामला : गुस्साए ग्रामीणों ने किया नेशनल हाईवे जाम


लुधियाना : अपहरण होने के मामले में पंजाब पुलिस द्वारा कार्यवाही ना किए जाने के रोष स्वरूप अपहरणकर्ता के नजदीकी रिश्तेदारों और स्थानीय लोगों को आज लुधियाना- जालंधर राष्ट्रीय राजमार्ग पर लाडोवाल पुलिस स्टेशन के बाहर धरना प्रदर्शन किया गया। इस रोषपूर्ण धरने में पंजाब पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई। लोगों द्वारा दिए जा रहे इस धरने के कारण लुधियाना-जालंधर मुख्य सड़क पर यातायात व्यवस्था पूर्ण रूप से ठप्प हो गई और दोनों तरफ 8-8, 10-10 कि.मी. तक आने-जाने वाले वाहनों की लंबी कतारें लग गई।

जानकारी के मुताबिक नेशनल हाइवे पर पडते थाना लाडोवाल के अंर्तगत आते गांव शोले के 12 साल के बच्चे करणजीत सिंह के पिछले दो दिन से लापता होने के बावजूद अभी तक कोई सुराग न लगने से गुस्साए ग्रामीणों ने थाने के समक्ष धरना देकर एनएच-वन जाम कर दिया। इससे करीब पौना घंटा राष्ट्रीय राजमार्ग बाधित रहा। जिस दौरान अन्य वाहनों के अलावा दिल्ली-लाहौर बस सेवा भी प्रभावित हुई।

धरनाकारियों का आरोप था कि दो दिन बीतने के बावजूद पुलिस ने बच्चे का सुराग लगाना तो दूर केवल डीडीआर दर्ज करके अपने कत्र्तव्य से इतिश्री कर ली है। जबकि ऐसे मामलों में सुप्रीम कोर्ट का सीधे एफआईआर करने का आदेश है। उधर, पुलिस का कहना है कि बच्चे के लापता होने की सूचना तुरंत दर्ज करके वायरल कर दी गई है तथा एफआइआर दर्ज की जा रही है। उधर, एसीपी रमनदीप भुल्लर का कहना है कि जीटी रोड बाधित करने वालों पर भी कानूनी कार्रवाई पर विचार किया जा रहा है। खबर लिखे जाने तक नैशनल हाईवे पर चारों तरफ जाम लगा था और भारी संख्या में पुलिस मौजूद थी।

– सुनीलराय कामरेड