हिंदू कत्ल केस की जांच करने के लिए एन.आई.ए की विशेष टीम पहुंची लुधियाना


rss murder case

लुधियाना  : बीते दिनों लुधियाना में हुए चर्चित कत्लों की जांच करने के लिए एन.आई.ए (नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी) की विशेष टीम आज लुधियाना पहुंची और अब तक हुई जांच की सभी कार्यवाही को जांचना शुरू कर दिया। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के लुधियाना शाखा प्रमुख 58 वर्षीय रविंदर गोसाई की मोटर साइकिल सवार सिख युवकों द्वारा की गई हत्या के मामले की जांच के लिए एनआईए की टीम आज शुक्रवार को शताब्दी एक्सप्रैस से लुधियाना पहुंची।

सिविल वर्दी में टीम के अधिकारी पुलिस कमिश्नर आरएन ढोके के फिरोजपुर रोड़ स्थित आफिस में पहुंचे। आरएसएस नेता की हत्या के बाद इस हत्याकांड के पीछे आईएसआई का हाथ होने की आशंकाओं के चलते पंजाब के सीएम कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने केंद्र से इसकी जांच एनआईए से करवाने की सिफारिश की थी। जिसके बाद केंद्रीय गृह मंत्रायल द्वारा सभी औचारिकताओं को पूरा करने के बाद अब यह टीम हत्याकांड की जांच के लिए जन शताब्दी के जरिये लुधियाना पहुंची। मालूम रहे कि डीजीपी पंजाब सुरेश आरोडा ने वीरवार को ही चंडीगढ में कहा था कि भले ही पुलिस ने काफी हद तक गुत्थी सुलझा ली है लेकिन हत्याकांड की साजिश अंतराष्ट्रीय स्तर पर रची गई है इसलिए एनआईए इस हत्याकांड को बेहतर तरीके से हल कर सकती है।

इससे पहले जालंधर के व्यस्त इलाके में 6 अगस्त 2016 को मोटर साइकिल पर सवार दो युवकों ने पंजाब आरएसएस के वरिष्ठ नेता ब्रिगेडियर जगदीश गगनेजा की भी हत्या कर दी थी। हालांकि पंजाब सरकार ने एनआईए से अब तक गोसाई की हत्या की जांच की सिफारिश की है। पंजाब पुलिस के लिए नाक का सवाल बने इस मामले को हल करने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। हत्यारों ने हत्याकांड के वक्त दो अलगअलग प्रकार के रिवाल्वर इस्तेमाल करते हुए यह हत्या की थी। हालांकि कुछ दिन बाद ही इस हत्या में प्रयुक्त बाइक लुधियाना के नजदीक जंगल से प्राप्त हुई थी और इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले हत्यारों के सीसीटीवी फोटोज भी प्राप्त हुए थे।

– सुनीलराय कामरेड