एचडीएफसी बैंक कैश वैन से 1.14 करोड़ लूटने का मुख्य आरोपी एक अन्य के साथ गिरफ्तार


arrest

लुधियाना-जालंधर : भोगपुर कस्बे के पास एचडीएफसी बैंक कैश वैन को लूट मामले में 24 घंटे बीतने के बाद पुलिस ने एक और लुटेरे को पकड़ लिया परंतु पुलिस के हाथ अभी तक लूटा गया कैश नहीं लगा। परंतु पुलिस का दावा है कि सभी आरोपियों की पहचान हो चुकी है और जल्द ही समस्त लूटा हुआ पैसा बरामद कर लिया जाएंगा। लूट के बाद प्रैस वार्तालाप करके डीआईजी जालंधर रेंज जसकरण सिंह ने बताया कि लूट में शामिल 6 आरोपी कपूरथला के नडाला गांव और इर्दगिर्द गांवों के है।

उन्होंने कहा कि इनमें से हैप्पी नाम का एक आरोपी पहले ही एचडीएफ सी बैंक के कैश को एटीएम में लोड करने का काम करता था, इसलिए उसने इसके बारे में जानकारी दी। मुख्य आरोपी चंद्रपाल सिंह उर्फ हैप्पी को गिरफ्तार कर लिया है। उसे कपूरथला से गिरफ्तार किया गया। बता दें, एक कार और तीन मोटरसाइकिल सवार लुटेरों ने गत दिवस कैश वैन से एक करोड़ 14 लाख रुपये लूट लिए थे।

जालंधर से एचडीएफसी बैंक की कैश वैन दो करोड़ से ज्यादा रुपये लेकर बैक की विभिन्न जगहों पर एटीएम में डालने निकली थी। कर्मी करीब एक करोड़ रुपये एटीएम में डाल चुके थे। शेष बचा हुआ एक करोड़ 14 लाख रुपये वे अन्य एटीएम में डालने जा रहे थे। कैश वैन शहर के बाहर भोगपुर कस्बा के पास पहुंची तो एक कार और तीन मोटरसाइकिलों में आए लुटेरों ने कैश वैन को जबरन रुकवा लिया। इसके बाद बदमाशों ने कैश वैन में ड्राइवर, बैंक के दो कर्मचारी और दो गार्ड को हथियार के बल पर बंधक बना लिया था और वैन में मौजूद एक करोड़ 14 लाख रुपये की राशि लेकर फरार हो गए थे।

डीआईजी ने यह भी बताया कि समस्त आरोपियों की पहचान सतइंद्र पाल सिंह , सुखविंद्र सिंह, जसकरण सिंह, गुरप्रीत सिंह, सुखदेव सिंह, हरदीप सिंह और रंजीत सिंह के तौर पर हुई है। पुलिस ने रंजीत सिंह का पीछा करके पकड़ लिया था और इसके बाद जसकरण सिंह भी काबू किया गया है।

– सुनीलराय कामरेड