पंजाब : महिला पुलिस कर्मचारी ने की थाने में आत्महत्या


लुधियाना-मुल्लापुर दाखां  : लुधियाना-फिरोजपुर रोड़ पर स्थित मंडी जगराओ इलाके के थाना जोधां के  रेस्ट रूम में महिला पुलिस कर्मचारी का शव संदिग्ध हालत में कमरे के पंखे से लटकता हुआ मिला। पुलिस के मुताबिक, मृतका ने शुक्रवार रात को पंखे से फंदा लगाकर जीवन लीला खत्म कर ली। जानकारी के मुताबिक अमनप्रीत कौर पुत्री कुलवंत सिंह आत्महत्या के दौरान डयूटी पर तैनात रहकर क्राइम एंड क्रीमनल ट्रेकिंग नेटवर्क सिस्टम का कार्यभार संभाल रही थी।

इस संबध में थाना जोधां के मुंशी निरभै सिंह के खिलाफ महिला पुलिस कर्मचारी को मरने के लिए मजबूर करने के आरोप में धारा 306 तहित मामला दर्ज किया गया है। इस संबध में थाना जोधां के प्रभारी मोहन दास ने बताया कि मृतका की अब कुछ समय पहले उसकी बदली थाना दाखा की हुई थी। लेकिन थाना जोधां की महिला पुलिस कर्मचारी राजविंद्र कौर छुट्टी पर होने कारन अमनप्रीत कौर की डयूटी थाना जोधां में लगी थी।

शुक्रवार को अमनप्रीत कौर ने रेस्ट रूम में जाकर गले में फंदा लगाकर खुदकशी कर ली। इस संबध में मृत्का के भाई गुरिंद्र सिंह निवासी खंडूर थाना जोधां तत्काल निवासी न्यू आबादी अकालगढ थाना जोधां ने पुलिस को दिए बयान में आरोप लगाया है कि उसकी बहन अमनप्रीत कौर को थाना जोधां का मुंशी निरभै सिंह प्रेशान करता था। इस संबध में अमनप्रीत कौर ने उसे भी बताया था और थाना दाखा के डीएसपी को भी सूचना दी थी। जिस पर डीएसपी ने उसे थाना दाखा में बुला लिया था। पुलिस ने मुंशी निरभै सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। थाना प्रभारी मोहन दास का कहना है कि मृत्का की मोबाइल फोन कॉल डिटेल निकलवा कर जांच की जा रही है।

परिवार ने लगाया धरना – महिला पुलिस कर्मचारी अमनप्रीत कौर की खुदकशी की बात उसके परिजनों के गले से नीचे नहीं उतर रही। उनका कहना है कि अमनप्रीत कौर ने खुदकशी नहीं की बल्कि उसका कत्ल कर शव को पंखे के साथ लटका दिया गया है। जिस कमरे में अमनप्रीत कौर का शव लटक रहा था उस कमरे में जहां शव लटक रहा था उसके साथ ही चारपाई पडी हुई है और अमनप्रीत कौर के पांव नीचे जमीन पर लग रहे हैं। एसे में पंखे से लटक कर उसकी मौत कैसे हो सकती है।

इसके अलावा उस कमरे में ही पुरुष पुलिस कर्मचारियों की दो पगडी भी मौजूद थी। उन्होने इंसाफ के लिए थाना जोधां के सामने धरना प्रदर्शन किया। इस मौके विधान सभा में विपक्ष के नेता विधायक एचएस फूलका, कामरेड संतोख सिंह गिल ने संबोधन करते हुए कहा कि राज्य में अएमन कानून की विवस्था बुरी तरह से चरमरा गई है। अगर पुलिस थानों में पुलिस कर्मचारी ही सुरक्षित नहीं हैं तो आम लोगों को वहां से इंसाफ कैसे मिल सकता है।

एसआईटी करेगी जांच – सिपाही अमनप्रीत कौर की संदिग्ध प्रस्थितियों में हुई मौत के संबध में उसके परिजनों व इंसाफ पसंद संगठनों ने धरना प्रदर्शन किया तो मौके पर एसएसपी सुरजीत सिंह खुद पहुंचे। उन्होने मृत्का के परिजनों की मांग पर इस मामले की जांच के लिए सिट गठित की गई है। मृत्का का पोस्टमार्टम डॉक्टरों का बोर्ड गठित कर उस से करवाया जाएगा। इसके अलावा थाना जोधा के प्रभारी मोहन दास को तुरंत लाइन हा•ार कर दिया गया है। एसएसपी ने कहा कि अगली कार्रवाई पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी।

– सुनीलराय कामरेड