पंजाब : सुनील जाखड़ नहीं लड़ेंगे गुरदासपुर संसदीय लोकसभा उपचुनाव


लुधियाना  : पंजाब कांग्रेस समिति के प्रधान श्री सुनील जाखड़ ने आज लुधियाना में स्पष्ट किया कि आगामी दिनों में पंजाब की गुरदासपुर सीट के उपचुनावों में लडऩे की उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि गुरदासपुर के इन चुनावों में लडऩे के लिए कांग्रेस के पास बहुत से योगय उम्मीदवार भी है और कई स्थानीय योगय नेता भी यह चुनाव लडऩा चाहते है। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं ने पंजाब में कांग्रेस संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिसे वह दिन-रात एक करके निभा रहे है। वह उपचुनाव या अन्य किसी भी प्रकार के चुनावों में दिलचस्पी नहीं रखते। पंजाब सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच ले जाने के लिए वह पंजाब भ्रमण पर है।

लुधियाना के पास्टर सुलतान मसीह हत्याकांड में शिरोमणि अकाली दल द्वारा सत्तारूढ पर सियासी वार के बाद आज पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड मृतक सुलतान मसीह के निवास टैंपल ऑफ गॉड चर्च पर पहुंचे तथा परिवार के साथ गहरी सहानूभुति व्यक्त की। इस समय उनके साथ विधायक राकेश पांडे व अन्य कांग्रेस नेता-वर्कर भी मौजूद थे। इस मौके पर पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए जाखड ने कहा कि यदि जरूरत पडी तो ऐसा हो सकता है चाहे वो सीबीआई हो या किसी नेशनल इंटेलीजेंस एजेंसी। लेकिन पंजाब पुलिस मुखयमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के नेतृत्व तले सबसे अधिक गैर-राजनीतिकण है। इससे पहले पंजाब पुलिस का बुरी तरह से सियासी करण हुआ था लेकिन आज मुखयमंत्री ने पंजाब पुलिस को फ्री हैंड दिए हुए है तथा यदि पंजाब पुलिस को जरूरत पडी चाहे सीबीआई या किसी अन्य आईबी या केंद्रीय एजेंसी की तो उसके पास स्वतंत्र शक्तियां है, ऐसा करने के लिए। जाखड ने कहा कि इससे पहले भी पंजाब में विभिन्न धार्मिक नेताओं पर ऐसे हमले हुए है, जिसके पीछे बहुत ही बडी खतरनाक योजना है तथा खतरनाक किस्म की ताकतें इसके पीछे सक्रिय है। लेकिन पंजाब की मुखयमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पंजाब में अमन-शांति व कानून व्यवस्था कायम रखने को प्रतिबद्ध है तथा हर हालत में ऐसे कायम रखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि पंजाब के लोग माहौल खराब करने का प्रयास करने वाली ऐसी ताकतों की चालों को अच्छी तरह से समझते है तथ जिस प्रकार से प्रदेश में भडकाहट पैदा करके आग लगाने का प्रयास किया जा रहा है। इस बात को लोगों ने भी समझा है तथा वह इस बात के लिए उनकी प्रशंसा करता हूं तथा उन्होंने एकता का सबूत दिया है। कांगे्रस पार्टी ऐसी भडकाऊ ताकतों का सिर कुलचने के लिए पूरी तरह से वचनबद्ध है। जाखड ने पूर्व में हुए हत्याकांडों पर सवाल करने बारे कहा कि इसलिए ही माता चंद कौर जैसे मामले की जांच सीबीआई कर ही है। कल डीजीपी पंजाब यहां होकर गए है तथा उन्होंने भी बताया कि पूर्व हत्याकांडों व पादरी हत्याकांड में जिस प्रकार के तरीके व हथियारों का इस्तेमाल किया गया है, उससे इस हत्याकांड के पूर्व के केसों में समानता हो सकती है। इसलिए ऐसे केसों को पंजाब पुलिस सीबीआई से मिलकर हल करके ऐसे तत्वों को सिर नहीं उठाने देगी।

– सुनीलराय कामरेड