लडकियों की अश्लील तस्वीरें बनाकर सोशल मीडिया में अपलोड करने वाले युवक किया गिरफ्तार


लुधियाना  : पिछले कई सालों से भोली-भाली युवतियों की फेक फेसबुक आईडी पर उनकी अश्लील फोटो तैयार करके अपलोड करने के बाद उनकी जिंदगी को नरर्क जैसा बनाने वाला शख्स आखिर लुधियाना पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया। काबू किए गए अपराधी की जुबान के मुताबिक उसने यह समस्त कारनामा अपनी आत्मसंतुष्टि के लिए किया था। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पहले लुधियाना की ही रहने वाली एक पीडि़त युवती ने इस शख्स के खिलाफ पुलिस को शिकायत की थी किंतु उसकी शिकायत पर कार्यवाही ना होने के रोष स्वरूप पीडि़ता ने बाकयदा ज्ञापन देकर इच्छा मृत्यु की इजाजत मांगी थी।

हालांकि इसी मामले में कई और अन्य पीडित युवतियों द्वारा अपराधी के खिलाफ पुलिस में शिकायत देने के बावजूद इस पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। जिससे इसका हौसला इतना बढ चुका था कि वह खुलेआम लडकियों को जिंदगी बबार्द करने की धमकियां देकर उन्हें ब्लैकमेल करने लगा था।

सूत्रों के मुताबिक वह अकसर जान पहचान वालों को कहता था उसे लडकियों की जिंदगी बर्बाद करने का गेम खेलन में मजा आता है। एडीसीपी-1 लुधियाना रत्न सिंह बराड ने बताया कि गिरफ्तार युवक का नाम जतिन बेदी है तथा वह बी-टेक का स्टूडेंट है। उसके खिलाफ पहले भी एक एनआरआई राजन की शिकायत पर पुलिस ने उसकी बेटियों को तंग परेशान करने का केस दर्ज किया हुआ है।

इसी बात की रंजिशन आरोपी ने राजन वर्मा के नाम की फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लडकियों की अश्लील तस्वीरें बनाकर अपलोड करनी शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिस के पास पीडित लडकियों ने शिकायत भी दर्ज करवाई। इस केस को एसीपी डा. सचिन गुप्ता द्वारा साइबर सेल की मदद से हल करके जतिन को गिरफतार कर लिया जोकि उससे ओपो कपंनी का मोबाइल भी बरामद कर लिया जोकि किसी एप के जरिये चेट करता था, जिससे उसका अपना नाम आने की बजाये विदेशी नंबर दिखाई देता था। पुलिस अब उसे अदालत में पेश करके रिमांड लेकर पूछताछ करेगी।

पीडित लडकी ने बताया कि आरोपी युवक ने उसे जून महीने में मैसेज करने शुरू किये था तथा उसकी अश्लील तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालकर जिंदगी बर्बाद करने की धमकियां देने लगा था तथा खुलेआम कहता था कि पुलिस भी उसका कुछ नहीं कर सकती क्योंकि वह इस खेल में बेहद एक्सपर्ट है तथा उसे लडकियों की जिंदगी बर्बाद करने में बहुत मजा आता था। मैंने इसकी शिकातय पुलिस को भी लेकिन पुलिस ने तत्काल कुछ भी करने में असमर्थता जताते हुए इसके खिलाफ चेट जारी रखते हुए सबूत एकत्रित करने की बात कही। शातिर युवक ने अपने कालेज में भी लडकियों के साथ ऐसा किया था, जिसके लिए उसे कालेज से निष्कासित किया जा चुका है।

लेकिन वह इसके बावजूद मेरी फोटो फेसबुक पर डालकर मुझे बदनाम कर रहा था जिससे मेरी जिंदगी नर्क जैसी बन चुकी थी। जिसके कारण मैंने आत्महत्या करने की ठान ली थी क्योंकि पुलिस भी इंसाफ नहीं दे रही थी तथा और कोई रास्ता नहीं बचा था। अब पुलिस इसे ऐसे सजा दे जोकि दूसरे लोगों के लिए एक उदाहरण साबित हो तथा कोई इस प्रकार लडकियों को ब्लैकमेल करने का साहस न कर सके।

एक अन्य पीडि़त लडकी ने बताया कि उसे पिछले साल से इस युवक ने संदेश भेजकर ब्लैकमेल करना शुरू किया हुआ तथा पुलिस को शिकायत देने के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। यह लडका मुझे अज्ञात जगह पर आने के लिए कहता था तथा ऐसा न करने पर मेेरी जिंदगी बर्बाद करने की धमकियां देता था तथा कहता था कि वह और कई लडकियों के साथ ऐसा कर चुका है तथा वह यह खेल बहुत अच्छे से खेलता है कि कोई पुलिस भी उसका कुछ नहीं बिगाड सकती। इसी से तंग आकर उसने सरकार से इच्छा मुत्यू की गुहार लगाई थी। अब यह लडका पकडा गया है तो इसे सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए।

भले ही आज यह शैतान आंखें झुकाए खडा है जिसने कई लडकियों को समाज के सामने आंखें झुकाने को मजबूर कर दिया लेकिन इसे अपने किये पर पछतावा व शर्म होना तो दूर अभी वह अपने गुनाह को मानने को तैयार नहीं है। ऐसे में पुलिस को ऐसे अपराधी के खिलाफ पुखता सबूत जुटाकर उसे सखत से सखत सजा मिलना सुनिश्चित किया जाना चाहिए ताकि यह कहीं जेल से बाहर आकर फिर से ऐसे काम न करें तथा दूसरों को भी सबक मिले।

– सुनीलराय कामरेड