बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रविवार को कहा कि दुबई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कथित अभद्र टिप्पणी करने से पहले राहुल को विदेश में भारत की मर्यादा का ध्यान रखना चाहिए। हुसैन ने यहां मकर संक्रांति मिलन समारोह से इतर संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि दुबई में राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘चोर’ करार दिया और पिछले चार वर्षों के दौरान भारत में असहिष्णुता बढ़ने की बात कही।

कांग्रेस अध्यक्ष को विदेश में भारत की मर्यादा का ध्यान रखना चाहिए था। विदेशी धरती पर भारत को असहिष्णु कहना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि राहुल को याद रखना चाहिए था कि वह विदेशी धरती पर किसी पार्टी के नेता के विरुद्ध नहीं, बल्कि देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ बोल रहे हैं।

राहुल विदेशी धरती पर इन दुर्भाग्यपूर्ण शब्दों का उपयोग कर भारतीयों के दिल को चोट पहुँचा रहे हैं। कांग्रेस को भाषा की मर्यादा तोड़ने का जवाब देश की जनता देगी। शाहनवाज हुसैन ने एक सवाल पर कहा कि देश राहुल को प्रधानमंत्री पद के लिये कई बार अस्वीकार कर चुका है। कांग्रेस को झटके पर झटके मिले हैं। वे दल अब उससे किनारा कर रहे हैं, जो विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ थे। वे वह राहुल को प्रधानमंत्री पद के दावेदार के रूप में स्वीकार नही कर रहे हैं।

हुसैन ने सपा-बसपा के गठबंधन को लेकर पूछे जाने पर कहा कि यह गठजोड़ बीजेपी के लिये कोई चुनौती नहीं है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि सपा और बसपा का गठबंधन उत्तर प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनाव के समय हुए सपा और कांग्रेस के गठबंधन के जैसा ही है। तब उत्तर प्रदेश के लोगों ने ‘यूपी के लड़के’ और ‘यूपी को यह साथ पसंद है’ को खारिज कर प्रधानमंत्री की बात पर भरोसा करके बीजेपी के पक्ष में मतदान किया था।