4 जजों की PC पर राहुल की बैठक, कांग्रेस बोली- देश में लोकतंत्र खतरे में है


rahul gandhi

सुप्रीम कोर्ट के जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को पार्टी की बैठक बुलाई है। यह बैठक कुछ ही देर में शुरू होने वाली है। मीटिंग के लिए कांग्रेस के कई नेता और वरिष्ठ अधिवक्ता सलमान खुर्शीद, मनीष तिवारी और पी चिदंबरम राहुल के आवास पर पहुंच चुके है। इधर, सीपीआई नेता डी. राजा ने सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस चेलमेश्वर से मुलाकात की है।

senior advocates

कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (सीपीआई) के नेता डी. राजा ने जस्टिस चेलमेश्वर से मुलाकात के बाद कहा कि जजों द्वारा उठाया गया कदम असाधारण है, और यह न्यायपालिका के गहरे संकट को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि जस्टिस चेलमेश्वर के साथ रिश्ता बहुत पुराना है। वे अपनी चिंताएं मेरे साथ बांटते हैं। अगर उनकी कुछ चिंताएं हैं, तो सांसदों को इस मामले पर विचार करके उसका हल ढूंढ़ने की जरूरत है। जानकारी के मुताबिक, इस बैठक के बाद करीब छह बजे इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया आएगी।

D Raja

कांग्रेस की इस बैठक से पहले पूर्व कानून मंत्री और वरिष्ठ वकील सलमान खुर्शीद ने जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस को काफी दुखद और दर्दनाक बताया है। उन्होंने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत का ये हाल हो गया है कि वहां के जजों को मीडिया में आकर अपनी बात कहनी पड़ रही है।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों का CJI पर शुक्रवार को लगाए गंभीर आरोप को कांग्रेस ने लोकतंत्र को खतरे में होना बताया है। कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से किए गए ट्वीट में कहा गया है, ‘4 जजों द्वारा सुप्रीम कोर्ट में प्रशासनिक अनियमितताओं के आरोप पर हम काफी चिंतित हैं।’

गौरतलब है कि आजादी के बाद देश में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हलचल मचा दी। सुप्रीम कोर्ट के 4 वरिष्ठ जजों जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस मदन लोकुर, जस्टिस कुरियन जोसेफ, जस्टिस रंजन गोगोई ने मीडिया से मुखातिब होकर प्रशासनिक अनियमितताओं के आरोप लगाए हैं।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें।