कैश संकट पर राहुल का वार, कहा – मैं 15 मिनट संसद में बोलूं तो PM सामने खड़े नहीं हो पाएंगे


Rahul gandhi

देश के कई राज्यों में एटीएम से अचानक नकदी गायब होने के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी व मेहुल चोकसी को ‘अच्छे दिन’ मुहैया कराकर उन्होंने देश की बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया है। राहुल ने हीरा कारोबारियों द्वारा किए गए बैंकिंग घोटाले पर चुप्पी साधने के लिए भी मोदी की आलोचना की।

राहुल ने पीएम को बैंकिंग घोटाले से जोड़ते हुए कहा कि वह नीरव मोदी को नाम से पहचानते हैं, मेहुल चोकसी को भी नाम से पहचानते हैं और दोनों को नाम से बुलाते हैं। पीएम मोदी के अच्छे दिनों के वादे की याद दिलाते हुए राहुल ने कहा कि वादा तो आम लोगों से किया था, लेकिन नीरव मोदी और मेहुल चोकसी जैसे 15 लोगों के अच्छे दिए आ गए। वहीं उन्होंने कहा कि जनता, किसान, मज़दूर और गरीबों के बुरे दिन आ गए।

राहुल गांधी ने आज ट्वीट किया और कहा कि समझो अब नोटबंदी का फरेब, आपका पैसा नीरव मोदी की जेब। मोदीजी की क्या ‘माल्या’ माया, नोटबंदी का आतंक दोबारा छाया। देश के ATM सब फिर से खाली, बैंकों की क्या हालत कर डाली। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी पार्लियामेंट में खड़े होने से डरते हैं। चाहे राफेल का मामला हो या नीरव मोदी का मामला हो पीएम मोदी अगर पार्लियामेंट में 15 मिनट का भाषण दे दें तो वो सामने खड़े नहीं हो पाएंगे।

राहुल ने आगे कहा कि मोदी पूरे देश का चक्कर काट रहे हैं लेकिन लोकसभा में भाषण देने के लिए उन्हें 15 मिनट का समय नहीं दे रहे हैं। उन्होंने नोटबंदी की याद दिलाते हुए कहा कि मोदी जी ने देश की जनता को लाइन में लगाया। सबकी जेब से 500 रुपए और 1000 रुपए का नोट छीना और नीरव मोदी की जेब में डाल दिया, लेकिन इसपर एक शब्द नहीं बोलते।

राहुल ने बड़े आरोप लगाते हुए कहा कि’राफेल में सीधे तौर पर चोरी हुई है। मोदी सरकार की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि एक उद्योगपति मित्र को 45,000 करोड़ रुपए दिए हैं। इस डील को एचएएल से छीना, बेंगलुरु से रोज़गार छीना लेकिन पीएम इसपर भी एक शब्द नहीं कहते।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी  के साथ।