GST को लेकर अजमेर में विरोध प्रदर्शन


राजस्थान कपड़ा व्यापार महासंघ एवं GST संघर्ष समिति की ओर से कपड़े पर 5% GST टैक्स लगाने के विरोध में कपड़ा व्यवसायियों ने आज अजमेर के नया बाजार चौपड़ पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया और केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली का पूतला फूंककर आक्रोश का इजहार किया।

अजमेर व्यापारिक महासंघ के अध्यक्ष मोहनलाल शर्मा ने इस मौके पर कहा कि पहले मोदी सरकार ने नोटबंदी कर व्यापारियों को संकट में ला दिया और अब GST के जरिए व्यापार का सत्यानाश कर दिया। उन्होंने कहा कि कपड़े पर टैक्स लगाने का मतलब कफन पर टैक्स लगाना है क्योकि कफन भी कपड़े से ही तैयार होता है।

उन्होंने इस 5 % टैक्स को वापस लेने की मांग की। इस प्रदर्शन में शहर के सभी कपड़ा व्यवसायी मौजूद थें। GST दरों में कमी की मांग को लेकर किशनगढ़ मार्बल मण्डी में भी व्यापार ठप्प रहा। व्यापारियों के कल राज्य के जालोर में हुई संयुक्त बैठक में लिए गए फैसले के अनुसार ग्रेनाइट एवं मार्बल व्यापारी GST दरों में कमी के बाद ही व्यापार करेंगें। व्यापारियों का विरोध मार्बल पर 28 % GST लगाने को लेकर है।