हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा रक्षाबंधन का त्यौहार


भाई बहन के प्रेम का प्रतीक कच्चे धागों का त्यौहार रक्षाबंधन आज समूचे राजस्थान में हर्षोल्लास और परम्परागत रूप से मनाया जा रहा है। रक्षा बंधन के त्यौहार पर आज सवेरे से ही जगह-जगह लोगों की भीड देखी गयी और बाजारों में भी काफी चहल पहल रही।

राजधानी जयपुर में किशनपोल बाजार, चांदपोल बाजार, छोटी चौपड, चौडा रास्ता सहित अनेक जगह पर मिठाई की दुकानों पर सवेरे से ही लोगों की भीड़ देखी गयी। इसके साथ ही ठेलों पर नारियल की बक्री भी होती रही।

राज्य सरकार द्वारा रक्षाबंधन राजस्थान राज्य परिवहन निगम की बसों में महिलाओं के लिये निशुल्क यात्रा की सुविधा के कारण बस स्टेंडो पर महिलाओं की बड़ी भीड देखी गयी। परिवहन निगम की ओर से भीड़ को देखते हुये कल रात से ही विभिन्न मार्गो के लिये अतिरिक्त बसें लगायी गयी। महिलाएं आधी रात से ही भाईयों को राखियां बांधने के लिये बसों में सवार होकर गंतव्य स्थानों के लिये रवाना हुयी।

रक्षा बंधन पर ग्रहण की छाया के कारण राखी बांधने का शुभ मुहुर्त सुबह 10 बजकर 53 मिनट से दोपहर एक बजकर 53 मिनट होने से महिलाओं में इसी मुर्हुत पर राखी बांधने की होड़ देखी गयी। त्यौहार को देखते हुये सवरे से मंदिरों में ठाकुरजी के विशेष श्रंगार किये गये और महिलाओं ने मंदिरों में रक्षा सूत्र बांधे।

इस दौरान केन्द्रीय कारागार पर भी कैदियों को राखी बांधी गयी और पुलिस लाईन में महिला पुलिसकर्मियों ने अपने सहर्मी पुरूषों को राखी बांधी। प्रदेश के जोधपुर, अजमेर, उदयपुर, कोटा और बीकानेर से भी राखी का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाये जाने के समाचार है।