करौली,(निसं) : मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सरकारी अस्पताल के पास पानी के  टैंकरों को बेचने वाले ठेकेदारों पर कार्रवाई करने  तथा जनता को नि:शुल्क पानी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने वहां लोगों से पूछा कि टेंकर के पैसे देते हैं या फ्री आ रहा है, लोगों ने बताया कि वे 300-300 रुपए देते है। इस पर सीएम ने कार्रवाई करने  के निर्देश दिए।

उन्होंने बाखर, गुर्जर पाड़ा मौहल्ले में पानी के उच्च जलाशय की जर्जर हालत देख साफ-सफाई के निर्देश दिए। पुरानी कचहरी मौहल्ले में निर्माणाधीन भूमिगत जलाशय के काम में देरी पर नाराजगी जताई और तकनीकी खामी की जांच कर संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई कर रिपोर्ट पेश करने को कहा। सीएम  तीन दिन के करौली दौरे पर हैं। पहले दिन गुरुवार शाम को ही वे करौली पहुंचीं थीं और देर रात तक जिले के अफसरों से बैठकें करती रहीं।

प्रिंसिपल निलंबित
मुख्यमंत्री ने विद्यालय की प्रिंसीपल  प्रतिभा भारद्वाज से कहा कि यह शर्म की बात है कि आदर्श विद्यालय में कम्प्यूटर चोरी हो गए हैं, सामान नहीं है, फर्नीचर बेच दिया गया है और शौचालय तथा पेयजल तक की व्यवस्था नहीं है। बाद में राजे के निर्देश पर प्रिंसिपल को निलंबित कर दिया गया और शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरू की गई है। सुंदरपुरा स्थित स्वतंत्रता सेनानी घमण्डीराम उत्कर्ष उच्च प्राथमिक विद्यालय में पेयजल के लिए हैंडपंप खराब होने, अध्यापकों के समय पर नहीं आने तथा साफ-सफाई नहीं होने पर मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद प्रधानाध्यापक बृजला मीणा का स्थानान्तरण कर दिया गया।

बेबी फूड पैकेट में कम वजन मिला, लाइसेंस रद्द
राजे ग्राम पंचायत भगतपुरा में आंगनबाड़ी केन्द्र गुड़ला द्वितीय के निरीक्षण के दौरान बच्चों को दिए जाने वाले बेबी मिक्स पूरक पोषाहार के पैकेट का वजन 230 ग्राम कम मिलने पर हैरान रह गई। 750 ग्राम के पैकेट में बेबी फूड महज 520 ग्राम था। उन्होंने मौके से ही महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल को फोन कर पोषाहार आपूर्ति करने वाले जय दुर्गा मां स्वयं सहायता समूह, जुगीनपुरा का टेंडर तुरंत निरस्त करने और उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद आपूर्तिकर्ता का लाइसेंस रद्द कर दिया गया और पूरे मामले की जांच भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो को सौंपी गई है। राजे ने आंगनबाड़ी केन्द्र की जर्जर हालत देखकर कलेक्टर को वर्तमान स्थिति की फोटो और आंगनबाड़ी केन्द्र की मरम्मत का कार्य ग्राम पंचायत के कोष से जल्द से जल्द करवाकर उसकी फोटो मुख्यमंत्री कार्यालय भेजने के निर्देश दिए।

भण्डार संचालक का लाइसेंस निलंबित
बल्लूपुरा ग्राम सेवा सहकारी समिति गुड़ला के अन्नपूर्णा भंडार केन्द्र पर रेट लिस्ट नहीं लगाने, लोगों को बिल नहीं देने, कम तोलने और एमआरपी पर चीजें बेचने की बात पता चलने पर मुख्यमंत्री बहुत नाराज हुर्इं। मुख्यमंत्री के निर्देश पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ने भण्डार संचालक का लाइसेंस निलंबित कर दिया और माप-तौल विभाग ने कम वजन तोलने पर मामला दर्ज कर लिया है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि अन्नपूर्णा भण्डार योजना ग्रामीणों को सही कीमत पर अच्छी चीजें उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई है। इसलिए यह सुनिश्चित करें कि संचालक गरीबों को लूटें नहीं और सेलिंग प्राइस पर ही चीजें बेचे ताकि जनता को हमारी योजनाआें का फायदा मिल सके। राजे ने काचरोली गांव में पेयजल के लिए लगाए आरआे प्लांट का भी निरीक्षण किया। उन्होंने ग्रामीणों से वहां वाटर एटीएम के जरिए पानी आपूर्ति के बारे में जानकारी ली और मौजूद व्यवस्था पर संतोष जाहिर किया।

जिला अस्पताल में मिली गंदगी
राजे जब करौली के जिला अस्पताल पहुंचीं, वहां प्रवेश द्वार पर ही भारी मात्रा में गंदगी के ढेर मिले। इससे नाराज मुख्यमंत्री ने कलेक्टर व अन्य अधिकारियों को तुरंत व्यवस्थाएं सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने अस्पताल के लेबर रूम, प्रसूति वार्ड और ऑपरेशन थिएटर में भी सफाई-व्यवस्था ठीक करने को कहा।

लक्ष्मी आई है, शगुन तो बनता है
अस्पताल के प्रसूति वार्ड में मुख्यमंत्री ने मैंगरी गांव की प्रसूता विपिन देवी की गोद में नवजात को देखा तो पूछा लड़की है या लड़का, जब विपिन देवी ने उन्हें बताया कि लड़की है, तो मुख्यमंत्री ने कहा कि लक्ष्मी जन्मी है, शगुन तो बनता है। उन्होंने बच्ची के हाथ में शगुन दिया।

राशन की दुकान पर देखा स्टॉक रजिस्टर
राजे ने माची ग्राम पंचायत में राशन की दुकान के संचालक से वितरण व्यवस्था तथा स्टॉक रजिस्टर की जानकारी ली। पोस मशीन से राशन वितरण की जानकारी ली। दुकान के संचालक ने बताया कि पोस मशीन से राशन वितरण ज्यादा आसान है और इसमें गड़बड़ी की संभावना भी नहीं है। मुख्यमंत्री से दुकान पर मौजूद वृद्घ महिला बंती देवी ने शिकायत की कि भामाशाह कार्ड में उनकी बजाय उनके नि:शक्त बेटे की सीडिंग होने के कारण राशन लेने में परेशानी होती है। इस पर उन्होंने कलेक्टर को सीडिंग सही करवाने के निर्देश दिए।

सीएम ने करवाई फोटो
होटल प्रकाश में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने स्वयं के रूम की झलक देखकर उसमें एक फोटो करवाई। जानकारी के अनुसार हुआ यूं कि जब भाजपा कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों की बैठक लेने के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने होटल में स्वयं के कमरे होने बात पूछी तो राजे को उनका रूम दिखाया, तो उन्हें पसंद ही नहीं बल्कि उसमें कुछ क्षण बैठकर एक फोटो भी करवाई। उसके बाद राजे वहां निकल कर भंवर विलास गई और वहां रात्रि विश्राम किया।

आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण
आपका जिला आपकी सरकार कार्यक्रम के तहत तीन दिवसीय प्रवास पर करौली आई मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे शुक्रवार को सुबह भंवर विलास से प्रशासन के अधिकारी पुलिस प्रशासन, मंत्री, सांसद, व भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ आकस्मिक निरीक्षण पर निकली। शुक्रवार को मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गुड़ला के आंगनबाड़ी केन्द्र का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण में मिली अनियमितता पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को फटकार लगाई। बताया जाता है, निरीक्षण पर वसुंधरा राजे इतनी नाराज थी कि उन्होंने अधिकारियों को वापिस करौली लौटने का कह दिया और सचिव के.के.पाठक व कलेक्टर मनोज शर्मा को स्वयं के वाहन में बैठकर रवाना हो गई। बाद में  राजे ने राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक विद्याय गुड़ला में कम्प्यूटर तथा साइंस, शौचालय, पेयजल तथा बिजली का कनेक्शन नहीं होने पर  सवाल किया कि एेसे विद्यालय को आदर्श  विद्यालय कैसे कहा जा सकता है? मुख्यमंत्री ने मौके पर ही शिक्षा विभाग के सचिव नरेश गंगवार से फोन पर बात कर उन्हें इसके बारे में विस्तृत जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।

सीएम ने करवाई फोटो

एक होटल में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने स्वयं के रूम की झलक देखकर उसमें एक फोटो करवाई। जानकारी के अनुसार हुआ यूं कि जब भाजपा कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों की बैठक लेने के बाद मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने होटल में स्वयं के कमरे होने की बात पूछी तो राजे को उनका रूम दिखाया, तो उन्हें पसंद ही नहीं बल्कि उसमें कुछ क्षण बैठकर एक फोटो भी करवाई। उसके बाद राजे वहां निकल कर भंवर विलास गई और वहां रात्रि विश्राम किया।