केन्द सरकार अंगदान कार्यक्रम को तेजी से आगे बढ़़ायेगी : नड्डा


जयपुर: केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जे पी नड्डा ने आज कहा सरकार अंगदान कार्यक्रम को तेजी से आगे बढ़ायेगी ताकि किसी व्यक्ति के जीवन को बचाया जा सके। आने वाले समय मेंं बीस लाख लोगों का अंगदान कराने का लक्ष्य तय किया गया है। नड्डा ने विश्व रेडक्रास दिवस पर आज जयपुर में आयोजित एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिस तरह से रेडक्रास ने रक्तदान थैलेसिमिया मरीजों की मदद में आपदा राहत के कार्य को आगे बढाया है उसी तरह से अंगदान के कार्य को आगे बढ़ाया जायेगा।

किसी के ब्रेनडेड घोषित होने के बाद चिकित्सक पीडि़त के परिवार की सलाह से उसके अंग किसी अन्य रोगी को दान कराकर उसका जीवन बचा सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द मोदी के निर्देश पर एचआईवी वायरस पीडि़त के पॉजीटिव होने के बारे में पता चलने पर उसे निशुल्क दवा देने की व्यवस्था की गई है। वर्ष 1962, 1971, की लडाई और कारगिल युद्व के दौरान भारतीय सेना ने भी रेडक्रास का सहयोग लेते हुए अपने फौजी भाइयों को सुरक्षित स्वास्थ्य लाभ दिलाने में मदद की है।

रेडक्रास थैलेसीमिया पीडि़तों को हर 15 दिन में रक्त की व्यवस्था करने में रेडक्रास महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है। रेडक्रास सोसायटी के उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना ने इस मौके पर कहा कि रेडक्रास का चिन्ह सिर्फ रेडक्रास के कार्य में ही काम में लिया जा सकता है, लेकिन इसका उपयोग चिकित्सक, हास्पिटल, मेडिकल स्टोर्स में किया जा रहा है, इसके दुरूप्रयोग को रोकने के लिए कदम उठाये जायेंगे।

(भाषा)