शराब की दुकान का किया विरोध


अवैध शराब ठेके पर प्रदर्शन करते ग्रामीण।

नीमराना : थानान्तर्गत गांव कायसा में अवैध रूप से चल रही शराब की दुकान को लेकर बुधवार को ग्रामीणों ने शराब ठेके के सामने विरोध-प्रदर्शन किया तथा इसको बन्द करवाने की मांग की। ग्रामीणों से प्राप्त जानकारी के अनुसार गांव में एक दुकान सरकार की ओर से आंवटित की गई हैं, लेकिन शराब ठेकेदारों ने उसकी ब्रांच आबादी  क्षेत्र खोलने से शराबियों का जमघट लगा रहता हैं। जिसके चलते महिलाओं का वहां निकलना मुश्किल हो रहा हैं। ग्रामीणो का आरोप हैं कि शराब के ठेकेदार सरकार से तय समय से पहले व बाद खुली रहती प्रशासन का इस और ध्यान नहीं के कारण आम जन में भारी परेशानी का  सामना करना पड़ रहा हैं। साथ ही ग्रामीणों ने चेतावनी दी हैं कि अगर इस अवैध खुले ठेके को तुरन्त बन्द करवाए अन्यथा ग्रामीण मिलकर शराब ठेके के सामने धरने पर बैठ जाएंगे।

इनका कहना-
मेरे से कायसा गांववालों ने शिकायत की, जिसमें उन्होंने  गांव में जो शराब का ठेका खुला हैं उसको अवैध बताया, लेकिन वो ठेका सरकारी मापदण्डों पर सही हैं। जो लोग ये कह रहे हैं कि दूसरी ब्रांच खोली गई हैं उसकी जांच की जाएगी अगर मौके पर ब्रांच पाई जाती हैं तो उसको बंद करवा दी जाएगी।
शिशुपालसिंह, सर्किल इंचार्ज, आबकारी विभाग, बहरोड़।

– सुनील जोशी