बेकाबू घोड़ा चलती कार का शीशा तोड़कर अंदर जा घुसा


हमसब ने अक्सर ऐसा सुना है कि एक कार दूसरी कार से टकरा गई जिसमें इतने लोग मरे या घायल हुए। लेकिन एक खबर ऐसी है जो न ही आपने कभी देखी और न ही सुनी होगी। जी हां, बात दरअसल राजस्थान की राजधानी जयपुर के हसनपुरा इलाके की है जहां गर्मी से परेशान एक घोड़ा बेकाबू हो गया और कार के आगे का शीशा तोड़कर उसमे घुस गया। जयपुर में गर्मी का आलम इन दिनों सिर चढ़कर बोल रहा है, गर्मी करीब 43 डिग्री थी।

जानकारी के मुताबिक सोमवार की दोपहर तांगेवाले ने अपना घोड़ा सड़क किनारे बांधा हुआ था। तांगेवाले ने चारे की पोटली घोड़े के मुंह पर बांध दी थी, जिससे घोड़े को दिख नहीं रहा था। गर्मी की वजह से घोड़ा रस्सी तोड़कर भागने। जिससे वहां अफरा-तफरी मच गई। मुंह पर पोटली बंधे होने के कारण पोटली घोड़े की आंखों तक पहुंच गई और उसे दिखना बंद हो गया। इस दौरान घोड़ा सड़क पर दौड़ते हुए पहले तो एक बाइक वाले को ठोकर मारी, फिर अचानक सामने से आ रही एक कार के ऊपर कूद गया और कार के शीशे को तोड़ते हुए सीधे अंदर जा घुसा।

इस दौरान घोड़ा घायल भी हो गया। घोड़े के कार पर कूदने से कार में बैठा ड्राइवर घायल हो गया। वहीं घोड़े को भी काफी चोटें आई। लोगों ने बड़ी मुश्किल से घोड़े को कार से बाहर निकाला। इस दौरान वन विभाग की टीम भी वहां पहुंच गई। उधर हादसे में घोड़े को तो चोट आई ही हैं साथ ही कार में बैठे एक इवेंट कंपनी में काम करनेवाले पंकज जोशी को भी चोट पहुंची। कार का शीशा कई जगह उनके शरीर में घुस गया। गनीमत थी कि घोड़ा ड्राइवर सीट की तरफ नहीं घुसा था जिसकी वजह से चालक को ज्यादा चोट नहीं आई।

प्राथमिक उपचार केंद्र में उपचार के बाद कार चालक को छुट्टी दे दी गई। साथ ही घोड़े को भी कार से निकाल लिया गया मगर निकालने के बाद घोड़े की हालत पस्त थी। हालांकि थोड़ी देर बाद घोड़ा भी खड़ा हो गया मगर उसका उपचार जारी है। वन विभाग के पशु चिकित्सक डॉ. अरविंद माथुर के अनुसार ज्यादा गर्मी की वजह से घोड़ा भागा होगा और आंख पर कपड़ा बंधे होने की वजह जब इधर-उधर भागने लगा तो लोग हंगामा मचाने लगे और इसी वजह से वो घबराहट में गाड़ी पर कूद गया होगा।