पथराव की घटना पर बोले राजनाथ – राहुल ने सुरक्षा व्यवस्था की अनदेखी


गुजरात दौरे के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की गाड़ी पर पत्थर से हुए हमले का मामला आज संसद में उठा। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में मंगलवार को इस घटना पर बयान दिया। उन्होंने कहा राज्य सरकार की ओर से उनकी सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए थे। लेकिन राहुल ने सुरक्षा की अनदेखी की। उन्होंने कहा SPG और राज्य पुलिस ने उन्हें बुलेट प्रूफ गाड़ी में बैठने को कहा था, लेकिन राहुल गांधी ने उनकी बात नहीं मानी।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने लगातार सुरक्षा मापदंडो का उल्लंघन किया, वह बार-बार गाड़ी से उतर कर लोगों से मिल रहे थे। राजनाथ सिंह ने कहा कि यह पहली बार नहीं है कि राहुल ने सुरक्षा मापदंडो को नजरअंदाज किया हो। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में 121 बार में से करीब 100 बार उन्होंने सुरक्षा मापदंडो का उल्लंघन किया है। राजनाथ सिंह ने कहा कि पिछले दो साल में राहुल गांधी ने लगभग 6 बार विदेश दौरा किया, इस दौरान वह 72 दिनों तक बाहर रहे। लेकिन उन्होंने SPG की सुरक्षा नहीं ली।

गृहमंत्री ने कहा, “पथराव वाली घटना में बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया, राहुल पुलिस की उपलब्ध कराई गई गाड़ी में नहीं बैठे।” उन्होंने आगे कहा, “इस मामले में एक व्यक्ति की गिरफ्तारी हुई है और गुजरात सरकार इसकी जांच कर रही है। राहुल को सुरक्षा के लिए दिए गए निर्देशों का पालन करना चाहिए था।”

जब गृहमंत्री राजनाथ सिंह राहुल गांधी की कार पर हुए हमले पर बयान दें रहे थे, उसी दौरान कांग्रेस के सांसद लगातार हंगामा करते रहे। हंगामें के बीच लोकसभा को 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया। आपको बता दें कि हाल ही में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात दौरे पर थे। जहां वह बाढ़ पीड़ित लोगों से मिलने गए थे।

इस दौरान राहुल गांधी की कार पर पथराव हुआ था। राहुल जब धानेरा हेलीपैड जा रहे थे तब उनकी कार पर पथराव हुआ था, जिसमें खिड़कियों के शीशे टूट गए थे। जिसके बाद पुलिस ने राहुल गांधी के काफिले पर हमला करने के मामले में बीजेपी नेता जयेश दर्जी को धनेरा से गिरफ्तार कर लिया है, जबकि 3 को हिरासत में लिया गया है। पुलिस ने कहा कि जयेश दर्जी मुख्य आरोपी है।