मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से निकाले जाने के बाद मौलाना सलमान नदवी एक सवाल का जवाब देते-देते रो पड़े। वो मशहूर इस्लामी यूनिवर्सिटी नदवतुल उलेमा में क्लास लेने पहुंचे थे। उनसे वहां छात्रों ने उनसे बाबरी मस्जिद की ज़मीन मंदिर के लिए देने के मुद्दे पर सवाल किए इस जवाब देते हुए मौलाना सलमान नदवी भावुक हो गए और रोने लगे।

बता दें कि अयोध्या को लेकर हाल ही में मौलाना सलमान नदवी ने श्री श्री रविशंकर से मुलाक़ात में विवादित ज़मीन पर राम मंदिर बनाने और मस्जिद को दूसरी जगह शिफ़्ट करने का फ़ॉर्मूला दिया था। जिसके बाद उन्हें मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड से बाहर कर दिया गया था।

राम मंदिर पर सुलह के फॉर्मूले को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड ने ना केवल मानने से इनकार कर दिया बल्कि मौलाना नदवी को बाहर का रास्ता भी दिखा दिया। AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने तो उनकी सामाजिक बहिष्कार तक की अपील कर दी थी। ओवैसी ने ये बातें हैदराबाद में मुस्लिम समाज की बैठक में कहा था।

इतना ही नहीं ओवैसी ने कल कहा था कि विवादित जगह को किसी भी सूरत में मंदिर के लिए नहीं देंगे। सिर्फ ओवैसी ही नहीं मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड भी यही भाषा बोल रहा है। चाहे कुछ भी हो जाए लेकिन अयोध्या में मस्जिद से समझौता नहीं होगा जबकि इस्लाम के जानकार मौलाना सलमान नदवी बार-बार कह रहे हैं कि इस्लाम मस्जिद को शिफ्ट करने की इजाजत देता है लेकिन उनके बयान का विरोध किया जा रहा है।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।