ट्रंप पेरिस समझौते के फैसले पर करें पुनर्विचार : राजनाथ


नई दिल्ली : पेरिस समझौते पर आज केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पेरिस समझौते से अमेरिका को अलग करने वाला डोनाल्ड ट्रंप का बयान इंडिया के लिए चौंकाने वाला रहा, लेकिन उन्हें विश्वास है कि अमेरिका अपने फैसले पर पुनर्विचार करेगा।

राज्य आपदा मोचन बल का क्षमता निर्माण-2017  पर आयोजित दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन  में सिंह ने बताया कि यह इंडिया और इंटरनेशनल कम्युनिटी के लिए चिंता का विषय है कि कोई एक देश केवल अपने हितों के बारे में सोचता है। उन्होंने बताया कि पेरिस समझौते पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का बयान हमारे और इंटरनेशनल कम्युनिटी लिए चकित करने वाला रहा। मुझे भरोसा है कि अमेरिका इस फैसले के बारे में दुबारे विचार करेगा।

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि यह देखना होगा कि किन हालात में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पेरिस समझौते पर बयान दिया।  गत 1 जून को पेरिस समझौते से अमेरिका के अलग होने की घोषणा करते हुए  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  ने दावा किया था कि इंडिया ने विदेशी सहायता के तौर पर अरबों डॉलर मिलने पर निर्भरता होने की वजह से इस समझौते में भागीदारी की है।


विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कल ट्रंप के बयान को खारिज करते हुए कहा था  कि भारत ने पेरिस समझौते पर दस्तखत किसी धन-भय या दबाव में नहीं किया। भारत ने पर्यावरण प्रतिबद्घता के लिए इस समझौते पर पहले हस्‍ताक्षर किए। उन्होंने कहा कि इंडिया पेरिस समझौते का हिस्सा बना रहेगा, चाहे अमेरिका इसका हिस्सा रहे या नहीं रहे।