दलितों संग पांच सितारा होटल में खाना खाने को लेकर तेजस्‍वी के तंज पर रविशंकर प्रसाद का पलटवार


Union Law Minister Ravi Shankar Prasad

दलितों के साथ पटना के फाइव स्टार होटल में खाना खाने पर तेजस्वी यादव द्वारा केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद पर किए गए तंज का रविशंकर प्रसाद ने पलटवार किया है। रविशंकर प्रसाद के ऑफिस के ट्विटर हैंडल से तेजस्वी को जवाब दिया गया। ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे SC/ST बहन-बेटियों को भी अच्छे होटल में खाना खाने का पूरा अधिकार है। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि मैं दलितों के लिए पटना के होटल में आयोजित भोज का आयोजक था।

ज्ञात हो कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैबिनेट के अपने सभी सहयोगियों से दलितों के साथ खाना खाने और उनकी समस्याओं को सुनने का आदेश दिया है। इसी के तहत रविशंकर प्रसाद ने पटना के एक फाइव स्टार होटल में दलितों के साथ खाना खाया और उन्होंने लकड़ी के पुल की नींव भी रखी। इसके बाद बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए कहा था, ‘पटना के ‘चीना कोठी दलित टोला’ में गरीब दलितों के यहां खाना ठुकराने के बाद पांच सितारा होटल पहुंच छोले-भटूरे खाकर आंबेडकर जयंती पर दलित सशक्तिकरण करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद

‘तेजस्वी के ट्वीट का पलटवार करते हुए रविशंकर प्रसाद ने लिखा, ‘आंबेडकर जयंती के अवसर पर बिहार के डिजिटली साक्षर दलित महिलाओं को सम्मानित किया गया। मैं खुद को गौरवान्वित मानता हूं कि मैने उनके साथ लंच किया। हमारे एससी/एसटी बहन-बेटियों को भी अच्छे होटल में खाना खाने का पूरा अधिकार है। मुझे खुशी है कि मैं उसका आयोजक था। ‘रविशंकर प्रसाद आगे लिखते हैं, ‘दलितों के वोट के लिए उनका उपयोग करने वाले लोगों को उनके अच्छे होटल में खाने से परेशानी हो रही है।

दलित महिलाओं को आईटी ट्रेनिंग देकर मोदी सरकार ने उनको सशक्त करने का काम किया है। देश के छह करोड़ गरीबों को सरकार ने डिजिटली साक्षर किया है। वोट के लिए दलितों का उपयोग करने वालों के लिए सशक्तिकरण का यह ईमानदार प्रयास असहज स्थिति पैदा कर रहा है।’

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।