मजबूरी में मंदिर के बाहर भीख मांग रहा था रूसी नागरिक, मदद के लिए आगे आईं सुषमा


विदेश मंत्री सुषमा स्वराज एक ऐसे रूसी नागरिक की मदद के लिए आगे आई हैं जो चेन्नई में एक मंदिर के बाहर भीख मांग रहा था। रूस का यह नागरिक अपने एटीएम का पिन लॉक हो जाने के बाद कांचीपुरम में एक मंदिर के बाहर भीख मांगने पर मजबूर हो गया था। स्वराज ने ट्वीट किया, ‘इवनगेलीन, आपका देश रूस हमारा मित्र है। चेन्नई में मेरे अधिकारी आपकी हर संभव मदद करेंगे।

सुषमा ने ट्वीट कर कहा की इवेंजलिन, आपका देश रूस हमारा परखा हुआ घनिष्ठ मित्र है। चेन्नई में हमारे अधिकारी आपकी पूरी मदद करेंगे।’ गौरतलब है कि 24 वर्षीय रूसी पर्यटक इवेंजलिन का एटीएम पिन लॉक हो गया था जिसके कारण वह पैसे नहीं निकाल पा रहा था। उसे जब कोई दूसरा तरीका नहीं सूझा तो उसने कुमारकोट्टम श्री सुब्रमण्यम स्वामी मंदिर के गेट पर बैठने का फैसला किया। यहां वह अपनी टोपी आगे कर लोगों से भीख मांग रहा था।

स्थानीय लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने जांच में पाया कि इवेंजलिन के सभी यात्रा दस्तावेज सही थे। उसका वीजा भी अगले महीने तक वैध है। पूरी जांच करने के बाद पुलिस ने इस रूसी पर्यटक को कुछ पैसे दिए और उसे चेन्नै जाने की सलाह दी, जहां उसे मदद के लिए रूसी वाणिज्य दूतावास के अधिकारियों से संपर्क करने को कहा गया।

पुलिस ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया, रूस के युवक के पास अगले महीने तक का वीजा है। उसकी हालत देखने के बाद पुलिस ने ही उसे पैसे दिए ताकि वो चेन्नई जा सके। वहां उसे रूसी वाणिज्य दूतावास के अधिकारियों से संपर्क करने के लिए कहा गया, ताकि उसकी मदद की जा सके। गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है जब विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मुसीबत में फंसे विदेशी की मदद की हो। इससे पहले भी वो कई मौकों पर दूसरे देश के निवासियों की मदद करते हुए उन्हें वीजा उपलब्ध करवाने से लेकर अपने देश वापस भेजने तक जैसे कदम उठा चुकी हैं।