रेयान हत्याकांड : 2 बच्चों सहित डॉक्टर का खुलासा , बताया – एक नहीं दो बार चाकू मारकर की हत्या


शुक्रवार को रेयान इंटरनेशनल स्कूल के शौचालय के अंदर दूसरी क्लास के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के मामले में प्रद्युम्न की क्लास में ही पढ़ने वाले दो छात्र बतौर गवाह सामने आए हैं। हरियाणा पुलिस ने दो छात्रों को गवाह के तौर पर मजिस्ट्रेट के सामने पेश करके उनका बयान दर्ज कराया है।

बताया जा रहा है कि दोनों बच्चों ने मजिस्ट्रेट के सामने दिए बयान में कहा है कि उन्होंने आरोपी कंडक्टर अशोक को स्कूल के बाथरूम में जाते हुए देखा था।

बता दे कि ये दोनों बच्चे वारदात से कुछ ही समय पहले बाथरूम में अपनी कराटे की ड्रेस बदल रहे थे। जब ये बच्चे बाथरूम से निकल आए उसके बाद प्रद्युम्न की हत्या हुई। दोनों बच्चों का बयान धारा 164 के तहत मजिस्ट्रेट के सामने दर्ज कराया गया है।

बच्चों ने अपने बयान में यह भी कहा कि उस वक्त एक माली भी टॉयलेट के अंदर था. उसने भी कंडक्टर को टॉयलेट के अंदर देखा था।

वही सरकारी डॉक्टर दीपक माथुर के मुताबिक उसकी मौत ज्यादा खून बहने के वजह से हुई है, क्योंकि कातिल ने उसकी गर्दन पर चाकू से दो वार किए थे। डॉक्टर ने ये भी बताया कि उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।

आपको बता दे कि शुक्रवार गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के मासूम प्रद्युम्न की गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। हत्या का इल्जाम स्कूल बस के कंडक्टर अशोक पर लगा। पुलिस पूछताछ में अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। अशोक ने पुलिस को बताया कि उसने प्रद्युम्न के साथ कुकर्म करने की कोशिश की थी. नाकाम होने पर पकड़े जाने के डर से उसने प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी।