अयोध्या विवाद पर शिया धर्मगुरु का बड़ा बयान, बाबरी मस्जिद की जमीन हिंदुओं को दे देना चाहिए


उच्चतम न्यायालय में चल रहे अयोध्या मामले की सुनवाई के बीच शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे सादिक ने एक बार फिर विवादित ज़मीन को हिंदुओं को देने की अपील की है बता दे कि मौलाना कल्बे सादिक ने अयोध्या में विवादित ढांचा मामले में मुसमलानों से उनके पक्ष में ना आए फैसले को शांतिपूर्वक स्वीकार करने के लिए कहा वहीं तो दूसरी ओर उन्होंने हिंदुओं को जमीन देने की बात भी कही।

मुंबई में एक प्रोग्राम के दौरान उन्होंने कहा कि अगर अयोध्या मामले में फैसला मुसलमानों के हक में ना हों तो उन्हें उसे शांतिपूर्वक स्वीकार करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर फैसला मुसलमानों के हक में न हो तो भी वे खुशी-खुशी जमीन हिंदुओं को दे दें. मौलाना कल्बे सादिक ने ये बातें एक कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा कि कुछ देने से ही कुछ मिलता है और ऐसा करने से हम करोड़ो हिंदुओं का दिल जीत लेंगे।

बता दे कि इस कार्यक्रम में मौजूद केंद्रीय मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कल्बे सादिक के बयान की तारीफ की। उन्होंने कहा कि यह बात कह कर मौलाना साहब ने सबका दिल जीत लिया है। हर्षवर्धन के मुताबिक भगवान श्रीराम न हिंदुओं के और न मुसलमानों के बल्कि वह तो भारत की आत्मा हैं ।

आपको बता दें कि अयोध्या विवाद में शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक दस्तावेजों के अनुवाद के लिए सभी पक्षों को 3 महीने का समय दिया है। इस मामले की अगली सुनवाई पांच दिसंबर को होगी।