विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर श्रीनगर के कई हिस्सों में पाबंदी


कश्मीर में अलगाववादियों की ओर से आहूत विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर शुक्रवार को जम्मू & कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के कई हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिए गए हैं। अलगाववादियों ने अमेरिकी प्रशासन द्वारा पाकिस्तान स्थित हिजबुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आतकंवादी घोषित किए जाने के विरोध में शुक्रवार की नमाज के बाद विरोध-प्रदर्शन का ऐलान किया है।

अधिकारियों सूत्रों से खबर है कि जम्मू & कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में मुख्य इलाके के 5 थाना क्षेत्रों में पाबंदी लगाई गई है। नौहट्टा, एम आर गुंज, रैनावारी, खानयार और सफाकदल पुलिस थाना क्षेत्र के इलाकों में प्रतिबंध लगाए गए हैं। इन इलाकों में दुकानें, सार्वजनिक परिवहन और अन्य व्यवसाय बंद हैं।

अधिकारियों का ये भी कहना है कि अप्रिय घटना को रोकने के लिए ऐहतियात के तौर पर   जम्मू & कश्मीर की राजधानी श्रीनगर जिला मजिस्ट्रेट (उपायुक्त) ने  CRPC की धारा 144 के तहत लोगों के इकट्ठा होने पर रोक लगाई गई है।

वही अधिकारियों  ने कहा कि जम्मू & कश्मीर की राजधानी श्रीनगर तथा अन्य संवेदनशील जिलों में भारी पुलिस बलों व केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की तैनाती की गई है।  जिन इलाकों में रोक  नहीं  लगाई गई है, वहां परिवहन सुचारु ढंग से हो रहे हैं।

वही कश्मीर के अलगावादियों और पाक के कब्जे वाले कश्मीर के United Jihad Council  (UJC) ने हिजबुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आंतकी घोषित करने के अमेरिका के निर्णय के खिलाफ आज शुक्रवार की नमाज के बाद विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया था।

अलगाववादियों ने कल जारी किए एक बयान में कहा गया था भारत सरकार को खुश करने के लिए अमेरिकी सरकार द्वारा उठाए गए नाजायज कदम और कश्मीर में मानवाधिकार की स्थिति तथा दमन पर अमेरिका की चुप्पी, कश्मीर के लोगों को स्वीकार्य नहीं है और वे शुक्रवार की नमाज के बाद पूरी कश्मीर घाटी में इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगे।