SC जज विवाद : बार काउंसिल की बैठक समाप्त, 7 सदस्यीय टीम का किया गठन


Manan Mishra

देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जजों द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीजेआई पर गंभीर आरोप लगाने के बाद से ही सबकी नजर न्यायपालिका से जुड़े इस सबसे बड़े विवाद पर है।

आपको बता दे कि सुप्रीम कोर्ट के चार जजों द्वारा कल की गई प्रेस कांफ्रेंस से उपजी स्थिति पर विचार विमर्श के लिए बार काउंसिल आफ इंडिया ने आज बैठक बुलाई। बार एसोसिएशन की इस बैठक में जज जे. चेलमेश्वर, जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस मदन बी लोकुर के द्वारा CJI दीपक मिश्रा पर लगाए गए आरोपों पर विचार किया गया। इस बैठक के बाद बार एसोसिएशन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए बार काउंसिल के अध्यक्ष मनन मिश्रा ने कहा कि यह न्यायपालिका का आंतरिक मसला है इसलिए इसे आंतरिक रूप से सुलझाया जाए। उन्होंने कहा कि मुद्दे का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए।

चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा ने कहा कि बैठक में एकमत से ये तय हुआ है कि काउंसिल का सात सदस्यों का एक डेलीगेशन सुप्रीम कोर्ट के न्यायधीशों से मिलेगा और मामले को खत्म करने की कोशिश करेगा।

वही , बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनन मिश्र ने कहा है कि ‘बार काउंसिल आफ इंडिया’ का प्रतिनिधि मंडल रविवार को चारों जजों से भी मिलने की कोशिश करेगा, जिससे उपजे विवाद को सुलझाया जा सके।

मनन मिश्र ने कहा कि पीएम मोदी और कानून मंत्री ने कल (शुक्रवार) ही कहा था कि यह न्यायपालिका का अंदरूनी मामला है, वही निपटाए…सरकार के इस रुख का बार काउंसिल स्वागत करती है।’ प्रधानमंत्री मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र के सीजेआई के दर से बैरंग लौटने से जुड़े सवाल पर मनन मिश्र ने कहा कि वह इस पूरे मामले से अवगत नहीं हैं। उन्होंने कहा कि नृपेंद्र मिश्र ने बयान दिया है कि वह सीजेआई से मिलने नहीं गए थे बल्कि उधर से गुजर रहे थे। बता दें कि मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को नृपेंद्र मिश्र सीजेआई दीपक मिश्रा के आवास पहुंचे थे लेकिन 5 मिनट गेट पर बिताने के बाद वह बैरंग लौट आए।

आपको बता दे कि इससे पहले शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के चार सीनियर जजों के प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उच्चतम न्यायलय की व्यवस्था पर सवाल उठाए जाने के बाद आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा से मुलाकात की है। माना जा रहा है कि दोनों के बीच कल की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद उठ रहे सवालों को लेकर बात हुई है। वहीं शनिवार को एक बार फिर अटॉर्नी जनरल ने सब ठीक हो जाने की उम्मीद जताई है। शनिवार सुबह को अपने घर से निकलते हुए अटॉर्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल ने कहा कि उम्मीद है सब ठीक हो जाएगा।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।