रांची : मुख़्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आज मैं मेला यानि जतरा में आया हूं। जहां मिठास होती है एक-दूसरे से मिलने जुलने का अवसर मिलता है। बाबा कार्तिक उरांव का सपना था कि जनजातीय समाज ऐसे आयोजन के माध्यम से अपनी परंपरा व संस्कृति को अक्षुण्ण रखे। उनका इस धरती पर प्रादुर्भाव जनजाति व समाज के अन्य वर्गों के सर्वांगीण विकास के लिये हुआ था। मुझे इस बात की खुशी है कि जनजाति समाज ने अपनी परंपरा और संस्कृति को बचा कर रखा है इसके संरक्षण में युवा पीढ़ी को महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करना है।

श्री रघुवर दास गुमला के घाघरा प्रखंड स्थित बदरी गांव के प्रोजेक्ट उच्च विद्यालय परिसर में आयोजित कार्तिक उरांव स्मृति जतरा सह खेलकूद प्रतियोगिता 2017 में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। श्री रघुवर दास ने कहा कि झारखण्ड के निर्माण और देश को आजादी दिलाने में जनजातीय समाज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। जनजातीय समाज जागृत हो और यह महसूस करे कि शिक्षा ही विकास की संजीवनी है। हमें स्वयं को बदलते समय के अनुसार को तैयार करना चाहिए ताकि देश दुनिया के विकास के साथ हम कदम से कदम मिला कर चल सके अन्यथा समय आगे निकल जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाबा कार्तिक उरांव ने सामाजिक परंपरा ना बिखरे इसके लिए हमेशा प्रयास करते रहे। राज्य सरकार ने धर्म की स्वतंत्रता का कानून लाया। यह किसी एक धर्म पर लागू नहीं होता। यह सभी धर्मों पर लागू होता है ।

अब लोभ और डरा कर कोई किसी का धर्म परिवर्तन नहीं कर सकता इससे किसी को पीड़ा नहीं होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार विकास की राजनीति करती है। गरीब, शोषित, अल्पसंख्यक के नाम पर सत्ता और वोट की राजनीति नहीं करती। सबके लिए है हमारी सरकार। तभी तो प्रधानमंत्री के बताये मूलमंत्र सबका साथ सबका विकास के साथ सरकार कार्य कर रही है जहां कोई विभेद नहीं है। 1000 दिन के कार्यकाल में सरकार पर 1 रुपया भी गबन का आरोप नहीं लगा। सरकार का लक्ष्य है राज्य और गरीब का सर्वांगीण विकास जिस पर हम लगातार कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री दास ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री उज्जवला के तहत करमी उरांव, जतरी उरांवए मोंटी उरांव को योजना का लाभ दिया।

20 महिला समूह को 10-10 हजार रुपए का चेकएसामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत श्रीमती मुन्नी देवी, बासुदेव उरांवए नागेश्वर भगत समेत 8 लाभुकों को आच्छादित किया। अनुकंपा के आधार पर विशाल राम और सिद्धार्थ गौतम को नियुक्ति पत्र सौंपा। जबकि सिंचाई हेतु 3 लोगों का माध्यम व 5 लोगों को अधिक क्षमता वाला पम्प सेट सुपुर्द किया गया। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड के 6 जिलों का बजट में विशेष ध्यान रखा जाएगा, जिसमें गुमला लोहरदगा शामिल है। साथ ही जापान से मिल कर झारखंड में मधु व अंडा के उत्पादन पर कार्य चल रहा है। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने स्व. कार्तिक उरांव की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित किया। ग्रामीण महिला पुरुष द्वारा पारंपरिक वाद्ययंत्रों व वेश सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में पूर्व विधायक श्री समीर उरांवएपद्मम अशोक भगत, जिला परिषद सदस्य तिम्बू उरांव, व अन्य उपस्थित थे।