ब्रिटेन कोर्ट ने दिया माल्या को झटका : सारी संपत्ति की फ्रीज , अब 4.5 लाख रुपयों में करना होगा गुजारा


Vijay Mallya

कारोबारी विजय माल्या को ब्रिटेन की कोर्ट ने तगड़ा झटका दिया है। बड़ी कार्रवाई करते हुए ब्रिटेन की कोर्ट ने माल्या की प्रॉपर्टी को फ्रिज कर दिया है। साथ ही माल्या के खर्च की लिमिट भी तय कर दी है। आपको बता दे कि विजय माल्या को लेकर लंदन में न्यायालयीन प्रकरण चल रहा है। मगर जानकारी सामने आई है कि ब्रिटेन में विजय माल्या की जो प्राॅपर्टी है उसे न्यायालय ने फ्रीज़ कर दिया है। विजय माल्या के खर्चे की राशि को भी सीमित कर दिया गया है। अब प्रति सप्ताह विजय माल्या 6 हजार 700 डाॅलर ही खर्च कर सकेंगे। अर्थात् वे अपने खर्च के लिए 4.35 लाख रूपए की प्रति सप्ताह के अनुसार, प्रबंधित कर सकेंगे।

बैंक्स से मिली जानकारी के अनुसार, विजय माल्या ब्रिटेन में तीन संपत्तियों, कारों और अन्य राशियों का मालिक बताया गया है। विजय माल्या के प्रत्यर्पण को लेकर, लंदन वेस्टमिंस्टर न्यायालय में सुनवाई चल रही है। लंदन के न्यायालय ने भारतीय न्यायालय के निर्णय को मानते हुए आदेश दिया है। बैंक्स से मिली जानकारी के अनुसार, विजय माल्या के पास ब्रिटेन में ही बड़े पैमाने पर संपत्तियां हैं। हालांकि उन्हें लेकर, प्रत्यर्पण की सुनवाई लंदन वेस्टमिंस्टर न्यायालय में की जा रही हैं।

जानिए ! लंदन की कोर्ट कौन कौन से मामले है : –
– माल्या पर भारत के 17 बैंकों के 9,432 करोड़ रुपए बकाया हैं।
– गिरफ्तारी से बचने के लिए वह पिछले साल 2 मार्च को देश छोड़कर भाग गया था।
– माल्या के एक्स्ट्राडीशन (प्रत्यर्पण) केस की सुनवाई भी लंदन वेस्टमिंस्टर कोर्ट में चल रही है।
– कोर्ट ने 4, 5, 6, 7, 11, 12, 13 और 14 दिसंबर को इस मामले की सुनवाई तय की थी।
– भारत ने ब्रिटेन से उसके एक्स्ट्राडीशन की रिक्वेस्ट की थी।
– डिफेंस टाइम टेबल के मुताबिक, 24 दिसंबर को फैसला सुनाया जाएगा।

जानिए ! भारतीय बैंकों का माल्या की बकाया राशि : –
– स्टेट बैंक ऑफ मैसूर 150 करोड़ रुपए
– सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया 410 करोड़ रुपए
– यूको बैंक 320 करोड़ रुपए
– एसबीआई 1600 करोड़ रुपए
– पीएनबी 800 करोड़ रुपए
– कॉर्पोरेशन बैंक 310 करोड़ रुपए
-आईडीबीआई 800 करोड़ रुपए
– बैंक ऑफ इंडिया 650 करोड़ रुपए
– फेडरल बैंक 90 करोड़ रुपए
– पंजाब एंड सिंध बैंक 60 करोड़ रुपए
– एक्सिस बैंक 50 करोड़ रुपए
– यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया 430 करोड़ रुपए
– इंडियन ओवरसीज बैंक 140 करोड़ रुपए

लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक करें।