राहुल गांधी निर्विरोध चुने गए कांग्रेस अध्यक्ष ,पार्टी मुख्यालय के बाहर जश्न का माहौल


राहुल गांधी आज कांग्रेस के अध्यक्ष निर्वाचित घोषित कर दिए गए। क्योंकि आज नाम वापसी की आखिरी तारीख थी। इनके अलावा किसी ने इस पद के लिए पर्चा नहीं भरा था इसलिए उन्हें निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया। हालांकि औपचारिक रूप से कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में उनकी ताजपोशी गुजरात चुनाव के बाद होगी। पार्टी मुख्यालय में जश्न का माहौल है।

वे वर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के उत्तराधिकारी बने। सोनिया इस पद पर 13 रहीं। राहुल कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद संभालने वाले नेहरू-गांधी परिवार से छठे सदस्य हैं।  नेहरू-गांधी परिवार से सबसे पहले मोतीलाल नेहरू 58 साल की उम्र में अध्यक्ष बने थे। उनके बाद जवाहर लाल नेहरू(40),  इंदिरा गांधी (42),  राजीव गांधी (41),  सोनिया गांधी (52), अब राहुल गांधी (47) हैं।

इससे पहले खबर थी कि राहुल गांधी 14 दिसंबर को आधिकारिक रूप से अध्यक्ष पद संभालेंगे। लेकिन इस पर फैसला नहीं हो सका। क्योंकि 14 तारीख को ही वोटिंग है इसलिए कुछ नेताओं ने इस दिन ताजपोशी का विरोध किया। इसके अलावा कुछ नेताओं का तर्क था कि चूंकि 16 तारीख से खरमास लग रहा है और हिंदू परंपरा में इस समय शुभ काम नहीं किए जाते हैं। इसलिए पर संशय बरकरार था।

19 साल बाद नया अध्यक्ष

आपको बता दें कि यह लगभग दो दशक बाद है, जब कांग्रेस पार्टी को उसका नया पार्टी अध्यक्ष बनेगा। मौजूदा अध्यक्ष सोनिया गांधी 1998 से पार्टी की कमान संभाल रही हैं। नामांकन के दौरान राहुल के साथ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई कांग्रेसी दिग्गज शामिल हुए थे। हालांकि, सोनिया गांधी-प्रियंका गांधी शामिल नहीं हुई थीं। राहुल ने नामांकन से पहले सोनिया से उनके घर जा मुलाकात की थी।