12 हजार का ईनामी बदमाश दबोचा


मुरादाबाद: मझोला पुलिस ने एक शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए बदमाश पर 12 हजार रुपए का इनाम रखा गया था। वह दो हत्याओं के मामले में वांछित चल रहा था। पुलिस ने बदमाश के कब्जे से तमंचा व कारतूस भी बरामद किया है। पकड़े गए शातिर बदमाश के खिलाफ सम्भल के असमोली, सम्भल, रजपुरा, बहजोई तथा अमरोहा जनपद के आदमपुर और मुरादाबाद जनपद के मझोला थाने में कुल 34 मुकदमे दर्ज हैं। इस संबंध में बुधवार को सहायक पुलिस अधीक्षक/ क्षेत्राधिकारी सिविल लाइन ने मझोला थाने में पत्रकार वार्ता का आयोजन किया। उन्होंने बताया कि 23 फरवरी 2017 को सिरकोई भूड़ गांव निवासी अनीता पत्नी जयपाल और 28 फरवरी 2017 को गांव सिरकोई भूड़ के ही अशोक पुत्र  रामचंद्र ने हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।

सिरकोई भूड़ निवासी युवती शीतल और महेंद्र नामक युवक 16 फरवरी को लापता हो गए थे। 28 फरवरी को शीतल और महेंद्र के शव सम्भल और अमरोहा जनपद की सीमाओं के पास मिले थे। इन हत्याओं के मामले में सम्भल जनपद के असमोली थानाक्षेत्र के गांव सदीरनपुर निवासी गुलाम पुत्र छिद्दा का नाम भी प्रकाश में आया था। गुलाम की गिरफ्तारी के लिए प्रभारी निरीक्षक मझोला हरिश्चंद्र जोशी के निर्देशन में टीम का गठन किया गया। उसकी गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों पर दबिश भी दी गईं। मगर पुलिस डाल-डाल तो गुलाम पात-पात चलता रहा। वह लगातार अपने ठिकाने बदल देता था। जिसके कारण वह पुलिस को चकमा देता रहा। इस पर पुलिस ने गुलाम की गिरफ्तारी पर ईनाम की घोषणा कर दी।

मगर इसके बाद भी वह पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका। पहली अगस्त को मझोला पुलिस ने गुलाम के घर पर दबिश दी मगर वह नहीं मिला।एएसपी ने बताया कि पुलिस टीम लौट रही थी कि तभी मुखबिर से सूचना मिली कि गुलाम रामपुर-मुरादाबाद बाईपास पर आजाद पेट्रोल पंप के पास कहीं जाने के लिए वाहन का इंतजार कर रहा है। इस पर पुलिस टीम तत्काल मौके पर पहुंची और गुलाम को दबोच लिया। पुलिस टीम को देखते ही गुलाम ने भागने का प्रयास किया मगर पुलिस की तत्परता से वह सफल नहीं हो सका। पुलिस ने तलाशी ली तो उसकी अंटी में 12 बोर का तमंचा और दो कारतूस मिले। एएसपी ने बताया कि गुलाम बेहद शातिर किस्म का अपराधी है। उसके खिलाफ सम्भल, अमरोहा और मुरादाबाद जनपद के कई थानों में 34 मुकदमे पंजीकृत हैं।

(अमित रस्तोगी)