MLC इस्तीफे को लेकर BJP पर भड़के अखिलेश, बोलें लालच देकर बीजेपी तोड़ रही है


यूपी में आज सुबह सपा के एमएलसी और राष्ट्रीय शिया समाज के फाउंडर बुक्कल नवाब और यशवंत सिंह और बसपा के एमएलसी जयवीर सिंह ने भी इस्तीफा दे दिया है। जिससे समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को एक बड़ा झटका लगा है। बसपा से इस्तीफा देने के बाद जयवीर सिंह भाजपा में शामिल हुए।

जयवीर ने मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के सामने भाजपा में शामिल हुए।बुक्कल नवाब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रशंसा भी की है। ऐसा माना जा रहा है कि सपा के ये दोनों एमएलसी भाजपा में शामिल हो सकते हैं। दोनों एमएलसी के इस्तीफे पर खिलेश यादव ने कहा कि भाजपा एमएलसी और एमएलए को लालच देकर तोड़ रही है।

Source

उन्होंने कहा कि विधान परिषद के तीनों सदस्य अलग-अलग आए थे और इस्तीफा देकर चले गए। बुक्कल ने इस्तीफा देने के बाद कहा कि’ पिछले एक साल से मुझे बहुत घुटन महसूस हो रही थी। सपा लिखते वक्त यह सही नहीं लगता है। समाजवादी पार्टी अब ‘समाजवादी अखाड़ा’ बन गई है।’

अखिलेश पर निशाना साधते हुए बुक्कल ने कहा कि ‘यह स्पष्ट है कि जब वह अपने पिता के साथ नहीं है, तो वह किसके साथ हो सकते हैं।’ उन्होंने हाल ही में राम मंदिर निमार्ण के पक्ष में बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ‘राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में नहीं होगा तो कहां होगा। मंदिर निमार्ण तो होना ही चाहिए।’

MLC इस्तीफे पर बोलें अखिलेश :

सपा मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने एमएलसी के पार्टी छोड़ने पर मीडिया से कहा कि एमएलसी और एमएलए को लालच देकर बीजेपी तोड़ रही है। बीजेपी जनता के बीच जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। बिहार में इन लोगो ने राजनीतिक भ्रष्टाचार किया और अब गुजरात में कांग्रेस को तोड़ने में लगे हैं। अखिलेश ने कहा कि एमएलसी तोड़ना राजनीतिक भ्रष्टाचार है।

बुक्काल नवाब अगर कैद नही हुए होंगे तब मैं उनसे पूछूँगा की क्या कारण है। उन्होंने कहा कि भाजपा वालों में हिम्मत नहीं है जनता के बीच जाने की। चार महीने के अंदर ही जनता के बीच जाने से डर गई ये पार्टी। अगर मायावती चुनाव लड़ती हैं तो मैं केवल इतना कहूँगा की समाजवादियो के सबसे अच्छे सम्बंध है। परिस्थिति के अनुसार राजनीति में किसकी कब मदद करनी पड़े , उसके लिए तैयार रहना चाहिए।