बीपीएल श्रेणी के लोगों को स्वरोजगार के लिए 15 लाख तक की सहायता


लखनऊ : उत्तर प्रदेश सरकार ने चालू वित्तीय वर्ष में एक लाख एक हजार 668 अनुसूचित जाति के लोगों को 107 करोड़ 27 लाख रुपये अनुदान, 16 करोड़ रुपये मार्जिन मनी ऋण, 384 करोड़ बैंक ऋण तथा 13 करोड़ 34 लाख करोड़ रुपये ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराकर लाभान्वित किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

आधिकारिक प्रवक्ता के अनुसार कृषि एवं अकृषि क्षेत्र की परियोजनाओं के बैंकों के सहयोग से अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम लिमिटेड निगम द्वारा संचालित स्वरोजगार योजना के तहत बीपीएल श्रेणी के लोगों को 15 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता मुहैया करायी जाती है। उन्होने बताया कि योजना के तहत व्यावसायिक क्षेत्र में स्वयं की जमीन होने पर स्वरोजगार के लिए 78 हजार रुपये उपलब्ध कराकर दुकान निर्मित करायी जाती है।

इसके तहत धोबी समाज के लिए लाण्ड्री एवं ड्राईक्लीनिंग योजना के तहत क्रमश: एक लाख एवं दो लाख 16 हजार रुपये की व्यवस्था की है। उन्होंने बताया कि योजना में अनुसूचित जाति बाहुल्य गांवों में आधारभूत सुविधाओं के लिए 25 करोड़ रुपये एवं जूता मरम्मत करने वाले अनुसूचित जाति कारीगरों को दो लाख 28 हजार खर्च कर पक्की दुकान उपलब्ध करायी जाती है।

– (वार्ता)