34 जोड़े हुए एक दूजे के


कुशीनगर: जिले के नव निकेतन ज्ञान स्थली इंटर कालेज तुर्कपट्टी में सामूहिक निर्धन कन्याओं के विवाह समारोह में 34 जोड़े अनू संग अशोकए प्रियंका संग मोहनए रंजू संग अवधेशए कीर्ति संग सोहन गूंजा संग शैलेष रंजू संग संदीप श्यामद ुलारी संग रूदल सुमरि संग राजन उमरावती संग धनेष संजू संग राजनए नीलम संग चंचलए माया संग स्वामीनाथए सुनैना संग झनामुन गायत्री संग रामचंद्र सीमा संग राजन ममता संग नंदलाल अंजलि संग मिंटूए सरोज सं गोपटू पूजा संग संजय पूजा संग कमलेश विनीता संग दर्शन प्रीति संग प्रदीप रंजना संग बबलूए सुग्गी संग कृष्णाए सरिता संग सुनीलए पूनम संग राकेश सोनी संग दिनेश नीलम संग रामप्रवेश मानती संग तूफानीए रेखा संग जीतेंद्रए नुरेशा संग सहादतए शहनाज संग जावेदए नासरिना संग अतिमुल्लाह हीना संग नेबुलाल एक.दूजे के हुए।

केडी शाही जन जाग्रति संस्थान के तत्वावधान में 15 वें साल आयोजित हुआ विवाहएक पांडाल में वैदिक मंत्रोच्चर व दूसरे पांडाल में हुआ निका निर्धन कन्याओं के विवाह में शामिल होना सबसे पुष्यरू सांसदशहनाई की धुनों के बीच एक.दूजे के हुए 34 जोड केडी शाही जन जाग्रति संस्थान के तत्वावधान में 15 वें साल आयोजित हुआ विवाह एक पांडाल में वैदिक मंत्रोच्चर व दूसरे पांडाल में हुआ निकाह निर्धन कन्याओं के विवाह में शामिल होना सबसे पुष्यरू सांसदशहनाई की धुनों के बीच एक.दूजे के हुए 34 जोड़ेशहनाई की धुनों के बीच रविवार को 34 निर्धन कन्याओं का सामूहिक विवाह धूमधाम से आयोजित हुआ।

एक पांडाल में वैदिक मंत्रोच्चर के बीच वर वधुओं में जीवन के सात फेरा लिया तो दूसरे पांडाल में मौलवियों के द्वारा निकाह पढ़ाया गया। इस भव्य विवाह समारोह का नव निकेतन ज्ञान स्थली इंटर कालेज तुर्कपट्टी गवाह बना। इसके पूर्व आयोजक मंडल द्वारा घरातियों व बारातियों द्वारा हाथी घोड़े के द्वारा स्वागत कर जमकर खातिरदारी की गई। अतिथियों सहित आयोजक मंडलों ने नव वर वधुओं को आर्शीवचन प्रदान दीघायरु होने की कामना की।

केडी शाही जन जाग्रति संस्थान तुर्कपट्टी के तत्वावधान में नव निकेतन ज्ञानस्थली इंटर कॉलेज तुर्कपट्टी में लगातार 15 वें साल सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन हुआ। बारात पहुंचने के पूर्व नव निकेतन ज्ञान स्थली को दुल्हन की तरह सजाया गया।

शाम 5 बजे से आयोजन स्थल पर कुशीनगर जिले के अतिरिक्त महाराजगंज सिद्धार्थनगर देवरिया सहित पड़ोसी प्रांत बिहार से बारातियों के आने का क्रम शुरु हो गया। आयोजक मंडल के अध्यक्ष महेंद्र यादव उपाध्यक्ष दीपनरायन अग्रवाल प्रबंधक सुधीर कुमार शाही संयोजक शैलेंद्र दत्त शुक्ल विक्रम अग्रवाल ने सहयोगियों के साथ बारातियों का माल्यार्पण कर हाथी घोड़े के साथ भव्य स्वागत किया। इस दौरान वर पक्ष व वधु पक्ष पर क्षेत्रवासियों द्वारा पुष्प बर्षा की गयी। सामूहिक विवाह में इस अनुपम दृश्य को देखने के लिए आयोजन स्थल पर जनसैलाब उमड़ पड़ा।

आयोजक मंडल ने बारातियों के स्वागत के पश्चात वर पक्ष व कन्या पक्ष को द्वार पूजा स्थल पर पहुंचाया। जहां पर एक पांडाल में विनोद मिश्रए राधेश्याम मिश्र अखिलेश तिवारी कुल्लु बाबा विद्यासागर मिश्र चंद्रिका पांडेय महेंद्र पांडेय सुरेंद्र मिश्र आदि ब्राहम्णों द्वारा वैदिक मंत्रोच्चर के बीच जीवन सात फेरे व वचनों के साथ विवाह संपन्न हुआ तो दूसरे पांडाल में मौलाना शाकिर सदरे आलम महबूब आदि मौलवियों के द्वारा निकाह की रश्म पूरी की गई। इस दौरान शहनाई की धुनों के बीच उपस्थित महिलाओं को मंगल व विवाह गीत गाया।

मुख्य अतिथि केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र अस्वस्थ्य होने के चलते कार्यक्रम में नहीं पहुंचे लेकिन मोबाइल से उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि निर्धन कन्याओं का विवाह आयोजन करने से बेहतर कोई धर्म व इंसानियत नहीं होती। केन्द्रीय मंत्री के प्रतिनिधि शशि मिश्र ने फोन के माध्यम से वर वधु को आशीर्वाद प्रदान किया। विधायक गंगा सिंह कुशवाहा ने कहा कि लोगों को ऐसे परोपकारी कार्यों में बढ़.चढ़ कर हिस्सा लेना चाहिए। इसके बाद अतिथियों ने वर वधुओं को आशीर्वचन प्रदान किया।

इसके पूर्व आयोजक मंडल ने घरातियों व बारातियों का जलपान व सहभोज कराया गया। विवाहोपरांत वर वधुओं ने कलश के साथ सूर्यमंदिर पहुंच भगवान सूर्य की पूजा अर्चना कर लंबे जीवन की कामना की। इस मौके पर दिवाकर मणिए सुरेंद्र दीक्षितए डाण् सीबी सिंहए डाण् नीरेन पांडेयए हैदर अली राइनी अमला गिरी नंदलाल विद्रोही अरुण श्रीवास्तव केपी सिंह बबलू पांडेय सुरेंद्र नाथ तिवारी प्रवीण कुमार शाही शैलेंद्र तिवारी नंदलाल सिंह आदि उपस्थित रहे।को नव निकेतन ज्ञान स्थली तुर्कपट्टी में आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 34 नव वर वधुओं को आर्शीवचन प्रदान करते अतिथिगण।