जीएसटी के समर्थन को लेकर सपा में मतभेद


लखनऊ : देश में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू होने के महज कुछ घंटे बाकी रहने के बावजूद समाजवादी पार्टी (सपा) का इस बारे में रऊख स्पष्ट नहीं हुआ है। सपा प्रवक्ता राजेंद, चौधरी जहां सपा को जीएसटी के पक्ष में बता रहे हैं वहीं सपा के ही वरिष्ठ नेता नरेश अग्रवाल जीएसटी को काला कानून ठहरा रहे हैं। चौधरी ने जीएसटी को लेकर सपा के रुख के बारे में पूछे जाने पर बताया कि सपा पहले ही इस कानून के पक्ष में रही है और उसने संसद में इसका समर्थन भी किया था। उन्होंने कहा ऐसे में सपा के जीएसटी के पक्ष में होने का रऊख बिल्कुल स्पष्ट है।

दूसरी ओर, सपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य नरेश अग्रवाल ने कहा कि जीएसटी एक काला कानून है और इससे देश में ईस्ट इंडिया कंपनी के काल वाले हालात फिर से पैदा हो जाएंगे। जीएसटी को लेकर संसद में आयोजित होने वाले सत्र में अपनी शिरकत की संभावना के बारे में पूछे जाने पर अग्रवाल ने कहा कि वह इस बारे में ऐन वक़्त पर कोई निर्णय लेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सपा जीएसटी का समर्थन नहीं करेगी।