रद्द हुए समायोजन के खिलाफ मैदान में उतरे शिक्षामित्र


कासगंज: उत्तर प्रदेश दूरस्थ बीटीसी शिक्षक संघ भी शिक्षामित्रों के रद् हुए समायोजन के खिलाफ मैदान में उतर आया है। गुरुवार को प्रभुपार्क में बैठक के बाद जोरदार जुलूस निकाला। सोरों रोड पर हाइवे को जाम कर प्रदर्शन किया। मुख्यमंत्री के नाम संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम सदर को सौंपा है। जिसमें सुप्रीम कोर्ट द्वारा शिक्षामित्रों के समायोजन के खिलाफ दिए गए निर्णय के परिप्रेक्ष्य में कानून बनाकर समायोजन बहाल करने की मांग उठाई। एसडीएम भरत लाल सरोज के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेज गए ज्ञापन में बताया गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने शिक्षामित्रों का समायोजन निरस्त कर दिया है।

जिससे लाखों शिक्षामित्रों के समक्ष रोजी रोटी का संकट उत्पन्न होने वाला है। शिक्षामित्रों के भविष्य को सुरक्षित करने का अधिकार प्रदेश सरकार के पास है, केंद्र सरकार से वार्ता कर कानून में संशोधन किया जा सकता है, जिससे सभी शिक्षामित्रों का समायोजन फिर से बहाल हो जाएगा। यदि शिक्षामित्रों की मांग को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा गंभीरता नहीं दिखाई गई तो शिक्षामित्र अपने आंदोलन को उग्र रूप देंगे। स्कूलों में तालाबंदी समेत अन्य तमाम आंदोलनात्मक कदम उठाए जाएंगे। इस दौरान जसवीर सिंह, कलीम खां, मुकेश बाबू, दयाराम सिंह, प्रमोद कुमार, मुहम्मद नुसरत खां, संजीव वर्मा, रीतेश द्विवेदी, ब्रज लाल, सुधीर कुमार, श्यामवीर, जितेंद्र दीक्षित सहित अन्य शिक्षामित्र मौजूद रहे।

– जितेन्द्र पाल