सच्चाई का सामना करने से भाग रहा विपक्ष: योगी


लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार करने पर आज विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा विपक्ष अपने शासन में किये गये कार्यो की सच्चाई का सामना करने से भाग रहा है। विधानसभा में बजट पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए श्री योगी ने कहा कि विपक्ष सच्चाई से मुंह नहीं मोड़ सकता है। अपने शासन काल में हुए कार्यों के बारे में सच्चाई को हजम नहीं कर पा रहा है। सच्चाई से भागकर विपक्ष ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार करने का निर्णय लिया है। किसी भी व्यक्ति को सच्चाई स्वीकार करने में कठिनाई होती है। विपक्षी सदस्यों को उनके शासन काल में क्या हुआ इसको हजम कर पाना कठिन हो रहा है। विपक्ष शासन चलाने के बनाये गये नियमों का उल्ल्घंन कर रहा है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री के सदन में अखिलेश यादव सरकार के दौरान उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की भर्तियों का केन्द्रीय जांच ब्यूरो से जांच कराने की घोषणा और कुछ अन्य बयानों को धमकी बताते हुए विपक्ष गत 20 जुलाई से सदन लगातार बहिष्कार कर रहा है। श्री योगी ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि विपक्षी दलों को भी जनता से किये गये वायदों को नही भूलना चाहिए। सभी सदस्य जनता से जनहित कार्य किये जाने का ही वायदाकर चुनकर आये है। उन्होंने कहा कि सरकार ‘सबका साथ सबका विकास’ विचारधारा से आगे बढ़ेगी। विपक्षी दलों के सदन की कार्यवाही का बहिष्कार के बीच उन्होंने आरोप लगाया कि पिछली सरकार द्वारा अपराधियों को संरक्षण दिया गया था।

अब अपराधियों को गिरफ्तार करने पर वे नाराज हो रहे हैं इसलिये सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर रहे है। आजमगढ में जहरीली शराब पीने में हुई मौतों के आरोपी तथा अंबेडकरनगर में खतरनाक अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कुछ राजनेता इन अपराधियों को खुला संरक्षण दे रहे थे। प्रशासन किसी अपराधी को गिरफ्तार करने में किसी की नहीं सुनेगा। मुख्यमंत्री ने अपने 55 मिनट के भाषण में कहा कि सरकार कानून व्यवस्था दुरूस्त करने के लिये जीतोड़ मेहनत कर रही है। पिछले चार महीनों में कानून व्यवस्था में सुधार हुआ है। आंकड़े बताते है कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार बनने के बाद अपराध का ग्राफ लगातार गिर रहा है। अभी भी कई बड़े मामले बाकी है, जिस पर कार्य हो रहा है।

सभी जिलों में आधुनिक पुलिस स्टेशन बनाये जायेंगे। इन आधुनिक पुलिस स्टेशनों को डायल 100, एम्बुलेंस 108 तथा अग्निशमन से जोडा जायेगा जिससे पुलिस घटनास्थल पर समय से पहुंच सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने पुलिस विभाग के आधुनिकीकरण के लिये पिछले साल के बजट में 7़ 3 प्रतिशत की बृद्धि की है। पुलिस के आधुनिकीकरण के लिये 107.19 करोड़ तथा डायल 100 के उच्चीकरण के लिये 296 करोड़ रूपये का प्रावधान किया है। अपराधियों एवं दुर्घटना स्थल तक समय पर पहुंचने के लिये पुलिस विभाग डायल 100 के लिये 1600 मोटरसाइकिल की खरीदारी करेगी। दंगों के लिये पूर्ववर्ती सरकार को दोषी करार देते हुए श्री योगी ने कहा कि समाजवादी पार्टी सरकार के दौरान प्रदेश में पिछले तीन साल में 450 दंगों की घटनाएं हुई लेकिन सत्तारूढ़ पार्टी के पिछले चार महीनों के दौरान प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ।