व्यापारियों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं होगा: डीएम


झांसी: व्यापारियों का उत्पीड़न कतई बर्दास्त नही किया जायेगा। व्यापारिओं की समस्याओं का निस्तारण समयबद्ध व गुणवत्ता के साथ किया जाये। यह निर्देश शनिवार को जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने वाणिज्यकर विभाग कार्यालय में स्थित जीएसटी हेल्प डेस्क का औचक निरीक्षण करते हुए उपस्थित अधिकारियों दिये। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को फ्रैडली माहौल उपलब्ध कराएं। जिससे वह व्यापार में आने वाली छोटी से छोटी समस्या को आप से साझा कर सकें। जिलाधिकारी ने जीएसटी हेल्प डेस्क का निरीक्षण करते हुए अब तक पंजीकृत व्यापारियों के रजिस्टर का निरीक्षण किया। रजिस्टर के सभी पात्रों का सत्यापन किये जाने के लिये दिये गये। उन्होंने कहा कि कार्यालय में जीएसटी हेल्प डेस्क का फोन नम्बर तथा ईमेल अवश्य चस्पा करें।

जिससे व्यापारियों को यदि कोई समस्या है तो वह फोन के माध्यम से जान सकें। जीएसटी हेल्प डेस्क नोडल अधिकारी अभिषेक गुप्ता असिटेंट कमिश्न ने जीएसटी हेल्प डेस्क में होने वाले कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 20,000 व्यापारी है जिन्हें आईडी प्राप्त नहीं हुआ है। लेकिन शासन द्वारा उन्हें 3 माह तक पेन कार्ड के माध्यम से व्यापार करने की छूट दी गई है। उन्होंने बताया कि सेक्टर अधिकारी की आईडी में व्यापारी की आईडी व पासवर्ड आ जाता है तो अधिकारी को जानकारी हो जायेगी। जिलाधिकारी कर्ण सिंह चौहान ने कार्यालय का भ्रमण किया तथा विद्युत वोर्डो को दुरुस्त करने के निर्देश दिये। साथ जो विद्युत तार फैले हैं उन्हें ठीक करने को भी कहा, भ्रमण के दौरान दीवारों पर लगे स्टिकरों को भी हटाने के निर्देश जिलाधिकारी ने विभाग को दिए। इस मौके पर एडीएम विजय बहादुर सिंह, ज्वाइंट कमिश्नर कार्यपालक शशांक शेखर मिश्रा, रमेश पांडे, असिटेंट कमिश्नर असीम राजपूत समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

– एम.वसीम