सरकारी भूमि-सम्पत्तियों से हटवाएं अवैध कब्जे


कासगंज: जिलाधिकारी आरपी सिंह ने कहा कि तहसील समाधान दिवस में प्राप्त प्रार्थना पत्रों को प्राथमिकता एवं गुणवत्ता के साथ निस्तारित करें। कोई भी पेंडेंसी न रहे। फोन से फरियादियों को निस्तारण की जानकारी दें। सभी अधिकारी अपने विभाग द्वारा अर्जित गत 100 दिन की उपलब्धियों की रिपोर्ट उपलब्ध करायें। तहसील पटियाली में आयोजित तहसील समाधान दिवस में उन्होंने कहा कि अभी खेत खाली हैं। पुलिस और अधिकारी आपस में तालमेल बनाकर मौके पर जायें और पैमायश कराकर अवैध कब्जे हटवायें, चकरोडों को खुलवाये। लेखपाल सक्रिय रहें, पैमायश, फौती, दाखिल खारिज, खसरा खतौनी व अन्य प्रकरणों को स्थानीय स्तर ही निबटायें। जिससे फरियादियों को मुख्यालय के चक्कर न लगाने पड़ें।

एक बार हटाने के बाद पुनः अवैध कब्जा करने पर दोशियों के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज करा दी जायेगी। अधिकारी अपनी विभागीय भूमि, सम्पत्तियों से अवैध कब्जे पुलिस के सहयोग से तत्काल हटवाकर अवगत करायें। उन्होंने कहा कि पैमायश और अवैध कब्जों की शिकायतें ज्यादा आ रही हैं। ग्रामीण क्षेत्र की शिकायतों के लिये सम्बंधित लेखपाल व सेक्रेटरी जिम्मेदार होंगे। कोई प्रार्थना पत्र निस्तारित न हो तो कारण सहित बतायें। अधिशाषी अभियंता विद्युत, जर्जर व लटकते विद्युत तारों को तत्काल ठीक करायें। खराब ट्रांसफार्मरों को शीघ्र बदलवायें। जिलाधिकारी के समक्ष तहसील दिवस में 209 प्रार्थना पत्र प्राप्त हुये।

जिनमें 12 मौके पर ही निस्तारित कर दिये गये। अधिकांश प्रार्थना पत्र पैमायश कराने, विद्युत, राशन, पेंशन, आवास दिलाने, खराब ट्रांसफार्मर, नलकूप ठीक कराने, अवैध कब्जा हटवाने, चकरोड खुलवाने आदि से सम्बंधित थे। तहसील दिवस में एसपी सुनील कुमार, सीएमओ, पीडी, डीडीओ, बीएसए, अधिशाषी अभियंता विद्युत, जलनिगम, लोनिवि, डीटीओ, डीएसओ, कृषि, डीपीआरओ, समाज कल्याण सहित सभी विभागों के अधिकारी, एसडीएम, सीओ तहसीलदार, बीडीओ, ईओ व थाना प्रभारी  मौजूद थे।

– जितेन्द्र पाल