उप्र में कानून व्यवस्था संतोषजनक नहीं


बरेली : राज्य निर्वाचन आयुक्त एस के अग्रवाल ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के ज्यादातर जिलों में कानून व्यवस्था संतोषजन नहीं है और अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो नगरीय निकाय चुनाव कार्यक्रम छह या सात जून को घोषित किया जाएगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त एस के अग्रवाल ने आज यहां समीक्षा बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि प्रदेश के तीन जोन में नगरीय निकाय चुनाव तैयारी की समीक्षा कर चुके हैं बरेली जोन में चौथी बैठक है, इन सभी जोन के ज्यादातर जिलों में कानून व्यवस्था संतोषजनक नहीं है।

इन चारों जोन के ज्यादातर जिलों में अपराध और अपराधी बढे हैं, पुलिस अपेक्षित कार्रवाई नहीं कर रही है इसलिए पुलिस विभाग से कहा गया है कि कानून व्यवस्था दुरुस्त करने को कठोर कदम उठाएं। चुनाव से पहले अपराधी जेल में होना चाहिए। श्री अग्रवाल ने बताया कि नवगठित नगर निगम अयोध्या फैजाबाद और वृंदावन मथुरा में अगर पूरी तैयारी समय से हो गई तो सभी के साथ साथ चुनाव होंगे, यदि पूरी तैयारी न/न हो पाई तो चुनाव बाद में कराए जाएंगे।

परिसीमन और आरक्षण प्रक्रिया में कमियों को देखते हुए आपत्ति निस्तारण तिथि 19 मई से बढ़ाकर 29 मई कर दी गई है। उन्होंने बताया कि जनता को ईवीएम पर भरोसा है, ईवीएम से कोई शिकायत नहीं की इसलिए नगर निगमों में मतदान ईवीएम से होंगे। इससे पहले निर्वाचन आयोग एसके अग्रवाल ने बरेली और मुरादाबाद जोन की समीक्षा बैठक कर कानून व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं कि सांप्रदायिक और जातिगत ङ्क्षहसा पर विशेष नजर रखें।

– (वार्ता)