मिर्जापुर में दहेज हत्या आरोपी पति को आजीवन कारावास


मिर्जापुर : उत्तर प्रदेश में मिर्जापुर जिले की स्थानीय अदालत ने दहेज हत्या के आरोपी पति को आजीवन कारावास के साथ 50 हजार रुपये केजुर्माने की सजा सुनाई है। अभियोजन के अनुसार देहात कोतवाली क्षेत्र के जयापुर गांव रामजी यादव ने अपनी पुत्री अंजू की शादी वर्ष 2006 में मडिहान क्षेत्र के हडौरा गांव निवासी अशोक यादव के साथ की थी।

शादी के बाद ससुराल वाले अतिरिक्त दहेज की मांग को लेकर अंजू को परेशान करने लगे। आरोप है कि दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर दो जून 2011 की सुबह अंजू की ससुराल वालों ने जला कर हत्या कर दी। मामले में अंजू के पिता रामजी ने दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए उसके पति के अलावा सास और ससुर को भी मुजरिम बनाया था।

मायके वालों का आरोप था कि अशोक शादी के बाद से ही दहेज के लिए अंजू को प्रताड़ति किया करता था और मांग पूरी नहीं होने पर उसे जलाकर मार डाला। मामले की सुनवाई करते हुए फास्ट ट्रैक कोर्ट के न्यायाधीश आलोक पाण्डेय ने गवाहों और साक्ष्यों के आधार पर आरोपी पति अशोक को दोषी करार देते हुए आज आजीवन कारावास की सजा के साथ 50 हजार जुर्माने की सजा सुनाई।