लखनऊ मेट्रो का हुआ सेफ्टी ट्रायल, जल्द होंगी सेवाएं शुरू


metro

लखनऊ: लखनऊ मेट्रो का सेफ्टी ऑडिट करने आयी टीम ने लखनऊ मेट्रो को बारीकी से मॉनिटर किया। आम तौर पर ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग मेट्रो का सफर लगभग 30 मिनट का है लेकिन सेफ्टी ट्रायल के चलते इस सफर को 1 घंटे से भी ज्यादा वक्त लगा। सुबह 9ः30 बजे सेफ्टी ट्रायल को शुरू किया गया। ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग मेट्रो के सफर में सेफ्टी ट्रायल के दौरान 1 घंटे से भी ज्यादा वक्त लगा। चलती मेट्रो को अचानक रोक कर इमरजेंसी ब्रैकिंग सिस्टम परखा गया।

इमरजेंसी की स्थिति में मेट्रो से यात्री कैसे निकलेंगे इसको भी जांचा गया। सेफ्टी ट्रायल के दौरान मेट्रो अपनी पूरी स्पीड 70 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ी। टीम ने ब्रैकिंग और अक्सेलरेटिंग टेस्ट भी किया। एंटी कोलाइडिंग सिस्टम के बारे में भी केंद्रीय अधिकारियों ने जानकारी ली है। सेफ्टी ट्रायल के बाद अब उम्मीद है कि जल्द ही लखनऊ मेट्रो के कमर्शियल रन की तारीख पता चल सकेगी। चार दिन में लखनऊ मेट्रो का बारीकी से परीक्षण हुआ है। मेट्रो स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था, टोकन व्यवस्था, मेट्रो ट्रेन, कंट्रोल सेंटर अदि का निरक्षण भी किया गया।