पौधारोपण हो युद्ध स्तर पर, घास लगाकर पार्कों का किया जाये सौंदर्यीकरण


मुजफ्फरनगर: जिलाधिकारी गौरी शंकर प्रियदर्शी ने आज कलैक्ट्रैट सभागार में पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्मशती वर्ष मनाए जाने की तैयारी को लेकर सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आहूत की तथा आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्म शताब्दी पर जो प्रर्दशनी लगाई जाएगी उसमें सम्बन्धित विभाग विभिन्न सरकार की जनकल्याणकारी येाजनाएं संचालित करें तथा सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का भी प्रचार प्रसार करें और उनके बारे में जनता को बताएं तथा उनकी रूपरेखा तैयार कर लें। जिलाधिकारी ने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्म शताब्दी वर्ष पर विभिन्न विभागों के कार्य योजना एंव कार्यक्रमों जिनका विवरण आपकों शासनादेश द्वारा दे दिया गया है को इस शर्त के साथ अनुमोदित किया जाता है कि उक्त कार्यक्रम कार्य योजना में व्यवहार का जो उल्लेख किया गया है।

उसके सम्बन्ध में कार्य करें और अंतोदय प्रर्दशनी में कोई शीतलता न बरती जाए जिसमें प्रमुख विभाग, पर्यटन विभाग, उच्च शिक्षा विभाग, माध्यमिक शिक्षा विभाग, बेसिक शिक्षा विभाग, पुस्तकालय कोष्ठक बेसिक शिक्षा विभाग, नगर विकास खेलकूद विभाग, खादी एंव ग्रामोद्योग विभाग, वन एवं वन्य जीव विभाग, परिवहन विभाग, कृषि विभाग, ऊर्जा विभाग, हथकरघा वस्त्र उद्योग विभाग, अपनी प्रदर्शनी में स्टॉल लगाकर कार्य करेंगे यह प्रदर्शनी जिला स्तर पर तीन दिवसीय चलेगी सभी विभाग अभी से अपनी तैयारी में लग जाएं पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्म शताब्दी अंतोदय प्रदर्शनी के सम्बन्ध में अगर कोई सम्बन्धित विभाग लापरवाही करता है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि इससे सम्बन्धित वृक्षारोपण समिति का जो गठन किया गया है वह भी युद्व स्तर पर वृक्षारोपण करें तथा वृक्षारोपण अधिक से अधिक होना चाहिए जहां वृक्ष लगाए जाएंगे उनके गड्डे के लिए ठेके आवंटित कर दिए जाएं यह विषय भी पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्म शताब्दी से सम्बन्धित है। जिन पार्काे में घास नहीं लगी हुई है उनमें घास लगाई जाए और वहां एक झोला भी अवश्य होना चाहिए ऐसे सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को जिलाधिकारी ने कडे़ निर्देश दिये कि पार्को का सौंदर्यकरण हेाना अति आवश्यक है जिससे कि आम व्यक्ति सुबह-शाम ताजगी की हवा ले सके और घूम सकें। इस अवसर पर सभी विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

– खुशी कुरैशी