बारिश ने ली तीन और लोगों की जान


कानपुर: यहाँ बीते कई दिनों से लगातार जारी बारिश लोगों की असमय मौत का कारण भी बनने की शुरुआत कर चुकी है, जिसके फलस्वरूप कानपुर नगर और देहात में अब तक आधा दर्जन लोग मौत का शिकार हो चुके हैं। साथ ही कई लोग गंभीर रुप से घायल भी हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यहां उनकी हालत लगातार गंभीर बनी हुई है। इसी क्रम में लगातार जारी इस बारिश ने आज किदवई नगर थाना क्षेत्र में बारा देवी पश्चिमी द्वार के पीछे स्थित पीली कॉलोनी में जर्जर मकान जाने के रूप में पति पत्नी और बच्चे समय तीन लोगों की जान ले ली। सूचना मिलते ही आसपास के लोगों में हड़कंप मच गया और मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई।

सूचना पर पहुंची किदवई नगर पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर उन्हें परीक्षण के लिए भिजवाया है। सबसे गंभीर बात यह भी कि इतनी बड़ी घटना के बाद भी डीएम और एसएसपी तत्काल मौके पर नहीं पहुंचे जिस से लोगों में रोष व्याप्त है। वहीं मौके पर पहुंचे क्षेत्र विधायक महेश त्रिवेदी ने 12 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और डूडा की ओर से मकान भी दिलाने की घोषणा की। पुलिस से प्राप्त जानकारी के मुताबिक 25 साल के लालू 32 साल की पत्नी राधा और 9 साल के बेटे अर्पित के साथ सो रहे थे । तभी आज शुक्रवार के तड़के 4:00 बजे उनका जर्जर मकान अचानक ढह गया, जिसके फलस्वरूप लालू और बेटे अर्पित और पत्नी राधा के उसके मलबे में दबकर मौत हो गई।

सुबह जानकारी होने पर क्षेत्रीय लोगों ने मलवा हटाकर उनके शवों को बाहर निकाला। पुलिस ने तीनों के शव को कब्जे में लेकर परीक्षण के लिए भिजवाया है। वहीं घटना के बाद उनके परिवार में कोहराम भी मचा हुआ है। इस बीच सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे किदवई नगर से भाजपा के विधायक महेश त्रिवेदी ने 12 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और डूडा की ओर से मकान भी दिलाने की घोषणा की।

– सुनील बाजपेई