राम मंदिर निर्माण पर अडिग है योगी सरकार : कृषि मंत्री


बलिया : उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा है कि राज्य की योगी सरकार अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर जनता से किये गये वायदे को पूरा करने पर अडिग है और इस मसले का न्यायसंगत तथा संवैधानिक तरीके से ही हल निकाला जाएगा। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के अवसर पर एक कार्यक्रम में भाग लेने कल शाम यहा०५ आये कृषि मंत्री शाही ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा ने राम मंदिर को लेकर जो भी वायदा किया है, वह उस पर अडिग है।

उन्होंने स्पष्ट किया कि राम मंदिर मसले का न्यायसंगत व संवैधानिक तरीके से ही हल निकलेगा। शाही से पूछा गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुनाव के पूर्व सरकार बनने पर राम मंदिर निर्माण का वायदा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री दोनो पक्षो से बातचीत के आधार पर इस मसले के हल की बात कर रहे हैं। क्या यह योगी सरकार का यू टर्न नहीं है। इस पर शाही ने भाजपा के लोक कल्याण संकल्प पत्र में किये गए वायदों को दोहराया तथा कहा कि योगी सरकार को बने हुए अभी ढ़ाई माह ही हुए है।

हम 20 वर्ष से सरकार नहीं चला रहे हैं।  कृषि मंत्री ने कहा कि योगी सरकार चुनाव के समय लोक कल्याण संकल्प पत्र में किये गये वायदे को पहले प्राथमिकता के आधार पर अमलीजामा पहना रही है। उत्तर प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में योगी राज में कानून का राज स्थापित हुआ है। आम जनता का विश्वास बढ़ा है। छेडख़ानी तथा दिनदहाड़े लूट की घटनाओं पर अंकुश लगा है।

कानून व्यवस्था पटरी पर आये, इसके लिये प्रयास हो रहा है। शाही ने कर्ज माफी की घोषणा को योगी सरकार के अभूतपूर्व कदम की संज्ञा दी तथा कहा कि देश ही नहीं दुनिया में भी किसी सरकार ने ऐसा कार्य नहीं किया है। किसानों की एक लाख रुपये तक की रिणमाफी को विपक्ष द्वारा ‘लालीपाप’ बताए जाने पर उन्होंने सफाई दी कि राज्य सरकार के खजाने में उपलब्ध धन के हिसाब से किसानों को राहत की व्यवस्था की गयी है।

– (भाषा)